Breaking News
Home / Featured / प्रोपर्टी का चक्कर…. राजधानी दूंन में हुए मर्डर के बाद पुलिस ने एक्शन लेकर मास्टर माइंड शावेज के साथ 4 अभियुक्त गिरफ्तार किये
प्रोपर्टी का चक्कर…. राजधानी दूंन में हुए  मर्डर के बाद पुलिस ने एक्शन लेकर मास्टर माइंड शावेज के साथ 4 अभियुक्त गिरफ्तार किये

प्रोपर्टी का चक्कर…. राजधानी दूंन में हुए मर्डर के बाद पुलिस ने एक्शन लेकर मास्टर माइंड शावेज के साथ 4 अभियुक्त गिरफ्तार किये

देहरादून

 

राजधानी के वीआई पी थाने नेहरू कालोनी क्षेत्र में हुए हत्याकाण्ड का 24 घंटे के भीतर दून पुलिस ने किया खुलासा, घटना में शामिल चारो अभियुक्त गिरफ्तार, अभियुक्तों के कब्जे से हत्या में प्रयुक्त 2 पिस्टल बरामद।

 

27 जनवरी की रात माता मंदिर रोड पर अजबपुर में 2 व्यक्तियों द्वारा राजेन्द्र पुण्डीर उर्फ राजू बाक्सर नाम के व्यक्ति की गोली मारकर हत्या की खबर मिलते ही पुलिस बल के तत्काल घटना की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, जनपद देहरादून, पुलिस अधीक्षक नगर तथा अन्य उच्चाधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना के सम्बन्ध में जानकारी ली।

 

मौके पर प्रत्यक्षदर्शियों द्वारा बताया गया कि स्कूटी सवार 2 व्यक्तियों द्वारा घटना को अजांम दिया गया है तथा मृतक राजेन्द्र पुण्डीर उपरोक्त को गोली मारने के बाद वह अपनी स्कूटी से फरार हुए हैं। घटना के सम्बन्ध में वादिनी अर्चना पुण्डीर की तहरीर पर घटना के खुलासे को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा पुलिस अधीक्षक नगर के निर्देशन तथा क्षेत्राधिकारी नेहरू कालोनी के पर्यवेक्षण में मौके पर ही अलग-अलग टीमों का गठन किया गया। साथ ही अज्ञात स्कूटी सवार अभियुक्तों की तलाश हेतु सभी थाना क्षेत्रों में चैकिंग अभियान चलाते हुए जनपद से बाहर जाने वाले बार्डरों को सील कर सभी वाहनों की सघन चैकिंग शुरू की गयी। गठित पुलिस टीमों द्वारा मौके पर प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ कर आस-पास के सीसीटीवी फुटेजों का अवलोकन किया गया, साथ ही एक टीम द्वारा घटना के सम्बन्ध में मृतक के परिजनों व अन्य संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की गयी। पूछताछ व अन्य साक्ष्यो के आधार पर घटना में विनय काम्बोज नामक व्यक्ति का नाम प्रकाश में आया, साथ ही यह तथ्य भी प्रकाश में आया कि मृतक राजेन्द्र पुण्डीर उर्फ राजू बाक्सर का शावेज नाम के व्यक्ति से प्राप्र्टी को लेकर विवाद चल रहा था तथा प्रकाश में आया अभियुक्त विनय काम्बोज शावेज खान का ही साथी है। जिस पर पुलिस टीम द्वारा तत्काल शावेज खान उपरोक्त की तलाश प्रारम्भ की गयी तथा मुखबिर की सूचना पर उसे पुरानी बाइपास चौकी के पास से पूछताछ हेतु हिरासत में लिया गया। शावेज खान से सख्ती से पूछताछ करने पर उसके द्वारा घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए बताया कि उसने अपने साथी विनय काम्बोज, अनिकेत काम्बोज तथा फरीद खान के साथ मिलकर राजू बाक्सर को मारने का प्लान बनाया था तथा उसके लिये 2 पिस्टल किराये पर ली थी।

 

27 जनवरी को जब राजेन्द्र पुण्डीर उर्फ राजू बाक्सर मेरे अजबपुर वाले प्लाट पर आया तो मेरे अन्य साथी विनय काम्बोज व अनिकेत द्वारा प्लाट पर आकर उसे गोली मार दी और वहां से भाग गये। दून पुलिस ने शावेज पुत्र इनायतुल्ला खान निवासी अजबपुर नेहरू कालोनी को मौके से गिरफ्तार किया गया तथा पूछताछ के दौरान अन्य अभियुक्त फरीद खान को मोथरोवाला स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया।

 

घटना में वांछित चल रहे अन्य अभियुक्तों विनय काम्बोज तथा अनिकेत काम्बोज की तलाश हेतु पुलिस टीम द्वारा कई जगह दबिश दी तथा दोनो अभियुक्तों को ISBT के पास से गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्तों की तलाशी लेने पर पुलिस टीम को उनके पास से घटना में प्रयुक्त दोनों पिस्टल व जिंदा कारतूस बरामद हुए। जिसमे अभियुक्त विनय काम्बोज से 1 पिस्टल 2 जिंदा कारतूस,अभियुक्त अनिकेत काम्बोज से 1 पिस्टल 2 जिंदा कारतूस मिले हैं।

 

गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों में

शावेज खान पुत्र इनायतुल्ला खान, निवासी अजबपुर थाना नेहरू कालोनी (40)विनय काम्बोज, पुत्र सुशील काम्बोज निवासी औरंगाबाद पो0 शेरपुर, थाना बिहारी गढ, जनपद सहारनपुर(22),अनिकेत पुत्र संजय काम्बोज निवासी: बेहट, सहारनपुर (20),फरीद खान पुत्र कासिम निवासी मोथरोवाला थाना नेहरू कालोनी देहरादून हैं।

 

पूछताछ में अभियुक्त शावेज को पुलिस द्वारा मास्टर माइंड बताया गया जिसने घटना के बारे में बताया गया कि मैं व राजू बाक्सर पार्टनरशिप में प्रापर्टी डीलिंग का काम किया करते थे। राजू अक्सर मेरे प्लाट पर शराब पीने के लिये आया करता था, पिछले कुछ समय से मेरा व राजू बाक्सर का प्रापर्टी व पैसों के लेनदेन को लेकर आपस में विवाद चल रहा था, जिस कारण मैने उसे रास्ते से हटाकर सारी प्रापर्टी खुद हडपने की योजना बनाई। इसके लिये मैने अपने साथी फरीद व विनय को अपनी योजना के बारे में बताते हुए उसमें शामिल कर लिया, विनय का पूर्व में कई बार राजू बाक्सर के साथ विवाद हो चुका था तथा राजू द्वारा उसके साथ कई बार मार-पीट व गाली-गलौच की गयी थी।

 

फरीद पूर्व से ही प्रापर्टी डीलिंग का काम कर रहा था, जिस कारण वह उसकी हत्या करने के लिये तैयार हो गया। घटना को अंजाम देने के लिये विनय ने अपने एक साथी अनिकेत, जो सहारनपुर का रहने वाला है तथा जिसके विरूद्ध सहारनपुर में लूट व डकैती के कई अभियोग पंजीकृत हैं, से सम्पर्क किया तथा उसे हत्या के एवज में मोटी धनराशि देने का लालच देकर अपने साथ शामिल कर लिया। योजना के मुताबिक दिनाँक: 27 जनवरी को विनय तथा अनिकेत मुझे फरीद के आफिस में मिले, जहां पर मैने राजेन्द्र पुण्डीर की हत्या के लिये विनय और अनिकेत को पिस्टल उपलब्ध करायी, उसके पश्चात हम चारो ने वहीं पर शराब पी। शाम के समय राजू बाक्सर जैसे ही मेरे प्लाट पर शराब पीने के लिये आया तो मैने तुरंत इसकी सूचना विनय व अनिकेत को दे दी। जिस पर विनय और अनिकेत मेरे प्लाट पर पहुंचे तथा विनय काम्बोज ने पिस्टल से राजू बाक्सर पर गोली चला दी, इसके पश्चात दोनो स्कूटी से वहां से फरार होकर सीधे फरीद के आफिस में आये, जहां पर करीब एक घण्टा रूकने के बाद दोनो फरीद के साथ उसके घर गये तथा फरीद को घर छोडने के बाद दोनो आईएसबीटी के पास एक निर्माणाधीन फ्लैट में छुप गये। आज जब वह दोनो देहरादून से भागने की फिराक में थे तो पुलिस टीम द्वारा उन्हें हत्या में प्रयुक्त पिस्टल के साथ गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त अनिकेत काम्बोज के विरूद्ध थाना चिलकाना व बेहट में लूट के कई अभियोग पंजीकृत हैं, जिसके आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

 

घटना के त्वरित खुलासा करने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने पुलिस टीम के लिए 2500/- के पुरूस्कार की घोषणा की है।

पुलिस टीम में श्रीमती सरिता डोभाल, पुलिस अधीक्षक नगर,सुश्री पल्लवी त्यागी, क्षेत्राधिकारी नेहरू कालोनी ,अनुज कुमार, क्षेत्राधिकारी सदर के साथ ही राकेश गुसाई, प्रभारी निरीक्षक नेहरू कालोनी ,देवेन्द्र चौहान, प्रभारी निरीक्षक बसन्त विहार, एश्वर्य पाल, प्रभारी निरीक्षक, एसओजी,प्रदीप राणा, थानाध्यक्ष, पटेलनगर,दिलबर सिंह नेगी, थानाध्यक्ष रायपुर,राजविक्रम सिंह थाना नेहरू कालोनी,उ0नि0 राजीव धारीवाल, चौकी प्रभारी आईएसबीटी,उ0नि0 मानवेन्द्र गुसांई, चौकी प्रभारी बाइपास, उ0नि0 धनीराम पुरोहित, चौकी प्रभारी नेहरू कालोनी,म0उ0नि0 नीमा रावत, चौकी प्रभारी डिफेंस कॉलोनी,उ0नि0 अमित ममगाई, ,उ0नि0 जयवीर सिंह,उ0नि0 राकेश चौधरी, कां0 आशीष शर्मा , कां0 पंकज, कां0 देवेन्द्र, कां0 ललित, कां0 विपिन, कां0 फरमान अली, कां0 राकेश बिष्ट और

क्यू0आर0टी0 टीम के सदस्य

 

01: हे0कां0प्रो0 रमेश सिहं,

2- कां0 दीप प्रकाश,

3- कां0 विक्रम रावत,

4- कां0 रितेश,

5- कां0 विजय हैं।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top