Home / Featured / गज़ब किंतु सत्य..तीन दोस्तो के हाथों में होगी देश की सुरक्षा की बागडोर
गज़ब किंतु सत्य..तीन दोस्तो के हाथों में होगी देश की सुरक्षा की बागडोर

गज़ब किंतु सत्य..तीन दोस्तो के हाथों में होगी देश की सुरक्षा की बागडोर

देहरादून / दिल्ली

तीन दोस्तों के पास होगी देश की सुरक्षा की बागडोर
आपको बता दें आपको बता दें यह तीनों दोस्त एक साथ एक ही कोर्स करके एक ही साथ देश की तीनों सुरक्षा एजेंसियों सेना वायुसेना और जल सेना के प्रमुख जल्द ही बनने वाले हैं। वास्तव में यह बात बिल्कुल सही है और आपको बता दें कि 28 साल बाद एनडीए के एक ही कोर्स के कैडेट जल थल नभ तीनों सेनाओं के प्रमुख बनने जा रहे हैं यह तीनों दोस्त साथ ही बता दें कि 1991 में भी इस तरह का एक अनोखा संयोग बन चुका है जब तीनों सेनाओं के प्रमुख एक ही कोर्स के थे आर्मी के डिप्टी चीफ लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे के बनते ही इतिहास खुद को दोहरायेगा।एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदोरिया और नेवी चीफ कर्मवीर सिंह तीनों ने एनडीए का 56 वां कोर्स पूरा किया था। भारतीय सेना के इतिहास में ऐसा सहयोग दोहराया जाएगा जब तीनों सेनाओं के प्रमुख एनडीए के एक ही कोर्स से होंगे। 1991 में भी इस तरह का संयोग देखा गया था जब तत्कालीन आर्मी चीफ सुनीत फ्रांसिस रोड्रिग्ज़, नेवी चीफ एडमिरल लक्ष्मीनारायण रामदास और एयर चीफ मार्शल निर्मल चंद्र सूरी तीनों ने एनडीए के पहले कोर्स में एक साथ थे और एक साथी तीनों अफसरों ने भारत की तीनों प्रमुख सुतक्षा एजेंसियों की कमान संभाली थी।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top