Home / Featured / भारतीय सेना और नौ सेना के वीर जवानों के कठिन परिश्रम, त्याग, तपस्या और बलिदान के कारण हमारी गौरवशाली परम्परा, भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति सुरक्षित हाथों में …गवर्नर लेफ्टि.जन.गुरमीत सिंह(सेनि.)
भारतीय सेना और नौ सेना के वीर जवानों के कठिन परिश्रम, त्याग, तपस्या और बलिदान के कारण हमारी गौरवशाली परम्परा, भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति सुरक्षित हाथों में …गवर्नर लेफ्टि.जन.गुरमीत सिंह(सेनि.)

भारतीय सेना और नौ सेना के वीर जवानों के कठिन परिश्रम, त्याग, तपस्या और बलिदान के कारण हमारी गौरवशाली परम्परा, भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति सुरक्षित हाथों में …गवर्नर लेफ्टि.जन.गुरमीत सिंह(सेनि.)

देहरादून

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने शनिवार को भारतीय नौसेना दिवस के अवसर पर नेशनल हाइड्रोग्राफिक ऑफिस, देहरादून मे आयोजित एट होम कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। इस अवसर पर फर्स्ट लेडी श्रीमती गुरमीत कौर भी उपस्थित थी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर राज्यपाल ने भारतीय समुद्रतटीय बचाव एवं सुरक्षा चार्ट का विमोचन किया।

देश की रक्षा में तत्पर सभी नौ सैनिकों एवं पूर्व नौसैनिकों, सभी प्रदेश वासियों एवं देशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने कहा कि भारतीय सेना और नौ सेना में तैनात वीर जवानों के कठिन परिश्रम, त्याग, तपस्या और बलिदान के कारण हमारी गौरवशाली परम्परा, भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति सुरक्षित हाथों में है। हमारा देश लम्बी तटीय सीमाएं रखने वाला विशाल समुद्री राष्ट्र है। समुद्र के इन विशाल लहरों के बीच, अनेक छोटे-बड़े द्वीप हैं, जो हमारे देश की विशालता को प्रकट करते हैं।

राज्यपाल ने कहा कि भारतीय नौसेना नें वेद की पवित्र वाणी “शं नो वरुण:” को अपना आदर्श वाक्य माना है, जिसका अर्थ है जलमय वरुण हमारा कल्याण करे। भारत भूमि के सामरिक महत्व की इन विशाल सीमाओं की सुरक्षा, हमारे नौसेना के वीर जवानों के हाथों में है।

उन्होंने कहा कि देश इकनोमिक तथा इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट में, देशवासियों की भलाई में, हमारी जरूरतों को पूरा करने में भारतीय नौ सेना का महत्वपूर्ण योगदान है।

भारत की विशाल सेना के अभिन्न अंग के रूप में, हमारी नौसेना अत्यधिक सक्षम, आधुनिकतम और शक्तिशाली सैन्य उपकरणों से सुसज्जित है।

भारतीय नौसेना आज के डिजिटल युग के अनुरूप, सूचना और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उन्नत और सुसम्पन्न बनती जा रही है।

राज्यपाल ने कहा कि भारतीय नौ सेना की सामरिक निपुणता, दक्षता, विद्वता और युद्ध कुशलता की कहानियां हमे जोश और जज्बे के साथ देश सेवा करने की प्रेरणा देती हैं। भारत की नौसेना हर विधा में पारंगत, और क्रियाकलापों में उत्कृष्ट है।

राज्यपाल ने कहा कि एक नौसैनिक के रूप में भूतपूर्व सैनिकों ने जो अनुभव, जो नेतृत्व अर्जित किया है वह हमारे उत्तराखण्ड प्रदेश को इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट, स्किल डेवलपमेंट, ट्रेनिंग प्रोग्राम्स में विशिष्ट लाभ दे सकता है। सेना में लम्बे समय तक की गई आपकी सेवा से प्राप्त अनुभव उत्तराखण्ड राज्य के विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं।

राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखण्ड प्रदेश के नवयुवक – युवतियां भी भारतीय सेना में अपने बेहतर कैरियर को चुनने का लक्ष्य बनाएं।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top