Breaking News
Home / Featured / ई- कलेक्ट्रेट प्रणाली देहरादून का हुआ लोकार्पण आमजन को भी मिलेगा इसका लाभ
ई- कलेक्ट्रेट प्रणाली देहरादून का हुआ लोकार्पण आमजन को भी मिलेगा इसका लाभ

ई- कलेक्ट्रेट प्रणाली देहरादून का हुआ लोकार्पण आमजन को भी मिलेगा इसका लाभ

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आईटी सलाहकार रविंद्र दत्त, कमिश्नर गढ़वाल रविनाथ रमन, जिलाधिकारी देहरादून डॉ आशीष कुमार श्रीवास्तव, निदेशक आइटीडीए अमित सिन्हा, सीईओ स्मार्ट सिटी रणवीर सिंह चोहान, एडीएम वित्त एवं राजस्व बीर सिंह बुधियाल, एडीएम प्रशासन अरविंद पाण्डेय आदि संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति में मुख्यमंत्री आवास में ई- कलेक्ट्रेट प्रणाली देहरादून का लोकार्पण किया। ई- कलेक्ट्रेट लोकार्पण के अवसर पर जिलाधिकारी देहरादून डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जानकारी दी कि ई कलेक्ट्रेट प्रणाली का शुभारंभ स्मार्ट सिटी देहरादून, आईटीडीए एवं एनआईसी के सहयोग से किया गया। जिसकी मुहिम जिला प्रशासन देहरादून द्वारा फरवरी माह से चालू की गयी थी, जिसमें स्मार्ट सिटी देहरादून के वित्तीय सहयोग से कार्य किया जा रहा है। इस प्रणाली से कार्यालयों में फाईल के मूवमेंट की निगरानी करने में आसानी होगी व फाईल का मूवमेंट तेजी से होगा, किस पटल पर फाईल कितनी देर रही इस बात की जानकारी जिलाधिकारी को एक क्लिक से प्राप्त हो सकेगी, जिससे लोगों के कार्य सरलता से तीव्रता एवं पारदर्शिता के साथ सम्पादित होंगे। जहां एक ओर पेपरलेस आफिस संचालित होने से कार्यालय व्यय में कमी आयेगी वहीं दूसरी ओर पर्यावरण को संरक्षित करने में भी यह प्रणाली मददगार साबित होगी। कोरोना काल में इस तरह की तकनीक का बेहतर उपयोग करने से कार्यालय में भीड़-भाड़ से बचा जा सकेगा, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखनें में भी मदद मिलेगी
जिलाधिकारी ने जानकारी दी कि ई ऑफिस प्रणाली के दूसरे चरण में तहसील एवं विकासखंड में कार्य किए जाएंगे। उसके बाद इलेक्शन ऑफिस एवं पंचस्थानी चुनाव के ऑफिस को इस प्रणाली से जोड़ा जाएगा। इसके अतिरिक्त आगे विकासभवन तथा इससे जुड़े हुए सभी कार्यालयों को भी इस प्रणाली के अन्तर्गत लाया जायेगा।
चूंकि इस ई-कलेक्ट्रेट प्रणाली देहरादून का शुभारम्भ 1 जुलाई को किया जाना था, किन्तु जिला प्रशासन, आईटीडीए, एनआईसी के अथक प्रयासों से इसका एक सप्ताह पूर्व ही लोकार्पण हुआ। निर्धारित समय-सीमा से पूर्व लोकार्पण होने से माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार द्वारा जिला प्रशासन, एनआईसी, आईटीडीए सभी कार्मिकों की सराहना की, जिनके अथक प्रयास से एक सप्ताह पूर्व ही इस प्रणाली का लोकार्पण सम्भव हो पाया।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top