Home / Featured / धधकते टिहरी के जंगलों में हेलीकॉप्टर से 10000 लीटर पानी के छिड़काव से नियंत्रित हुई वनाग्नि
धधकते टिहरी के जंगलों में हेलीकॉप्टर से 10000 लीटर पानी के छिड़काव से नियंत्रित हुई वनाग्नि

धधकते टिहरी के जंगलों में हेलीकॉप्टर से 10000 लीटर पानी के छिड़काव से नियंत्रित हुई वनाग्नि

देहरादुन/टिहरी

उत्तराखण्ड सरकार द्वारा जंगलों में बढ़ रही आग से निजात पाने को केन्द्र सरकार के सहयोग से वायु सेना के MI-17 हेलीकॉप्टर से जंगलों में आग को बुझाने की कवायत प्रारम्भ की है, जिसके प्रारम्भिक चरण में गढ़वाल में आज टिहरी जनपद अन्तर्गत नरेन्द्रनगर वन प्रभाग की नरेन्द्रनगर रेंज में अदवाणी क0सं0-4 एवं तमियार (फकोट ब्लॉक, टिहरी) में वनाग्नि को बुझाने का कार्य किया गया।


ऑपरेशन के दौरान सुबह 8:30 पर हेलीकॉप्टर देहरादून एयरपोर्ट पर उतरा तद्पश्चात एसके पटनायक, मुख्य वन संरक्षक (गढ़वाल) द्वारा समन्वय स्थापित किया गया। प्रारम्भिक तैयारियों के पूर्ण होने के उपरान्त प्रातः 10 एयर ऑपरेशन प्रारम्भ किया गया, जिसमें हेलीकॉप्टर क्रू के साथ श्री धर्म सिंह मीणा, प्रभागीय वनाधिकारी, नरेन्द्रनगर वन प्रभाग द्वारा वनाग्नि प्रभावित वन क्षेत्रों के सम्बन्ध आवश्यक सूचना देते हुए, प्रारम्भिंक रैकी कार्य प्रभावित क्षेत्रोें के उपर दो बार किया गया। तद्पश्चात कोटी कलोनी, टिहरी झील से 5,000 लीटर की बकेट में पानी भरकर वनाग्नि से प्रभावित जंगलों में पानी का 4 सोटियों के माध्यम से दो बार 10,000 लीटर पानी का छिड़काव कर वनाग्नि को नियंत्रित किया गया।
एयर ऑपरेशन दोपहर लगभग 1 बजे तक जारी रहा तथा बाद में प्रतिकूल मौसम के कारण ऑपरेशन को रोकना पड़ा। मंगलवार दोबारा प्रातः काल में ही पुनः ऑपरेशन किया जायेगा।
इस सम्पूर्ण ऑपरेशन को मुख्यमंत्री, तीरथ सिंह रावत के नेतृत्व में तथा वन मंत्री के मार्गदर्शन में एवं प्रमुख वन संरक्षक (HoFF), उत्तराखण्ड के समन्वयन में उत्तराखण्ड सरकार के विभिन्न महकमों यथा-वन विभाग, सिविल एविएशेन विभाग, जिला प्रशासन, वायु सेना एवं स्थानीय स्टाफों द्वारा सहयोग प्रदान किया गया। एयर ऑपरेशन हेतु सवेंदन क्षेत्रों का चयन कोर्डिनेट तथा हेलीकॉप्टर क्रू के साथ समन्वय प्रभागीय वनाधिकारी, नरेन्द्रनगर वन प्रभाग द्वारा किया गया तथा ग्राउण्ड लेवल पर समन्वय प्रभागीय वनाधिकारी, टिहरी वन प्रभाग द्वारा, लोजिस्टक सपोर्ट उप जिलाधिकारी, टिहरी द्वारा तथा ग्राउण्ड र्स्पोट अधिशासी अभियन्ता सिंचाई खण्ड, नई टिहरी प्रदान की गयी। यह सम्पूर्ण ऑपरेशन सफल रहा।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top