चीन की किसी भी कंपनी को भारत में टेंडर ना मिले….शमशेर सिंह बिष्ट

/center>

भारत चीन सीमा पर लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों द्वारा धोके से किये गए हमले में शहीद सैनिकों को लेकर पूर्व सैनिकों में रोष

15-16 जून 2020 की रात चीनी सैनिकों द्वारा सीमा पर भारतीय सैनिकों पर धोखे से कायराना हमला किया जिसमें हमारे एक कमांडिंग ऑफिसर सहित 20 जवान शहीद हो गए इस बात को लेकर पूर्व सैनिकों में अत्यंत रोष है इस क्रम में आज चीन का पुतला दहन किया और मीडिया के माध्यम से राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार को अवगत कराया कि पूर्व सैनिकों भी सेना का हिस्सा रहे हैं पूर्व सैनिकों ने भी उन सीमाओं पर अपनी सेवाएं दी है चीन पहले से ही इस प्रकार के धोखेबाजी करता रहता है परंतु इस बार चीन ने धोखे से कायराना हमला किया है इसमें हमारे निहत्थे कमांडिंग ऑफिसर सहित 20 सैनिक शहीद हुए हैं इसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा पूर्व सैनिक पूर्णता सरकार के साथ है तथा सीमा में जाकर देश की रक्षा के लिए हरसंभव सेवा देने के लिए तैयार हैं संगठन के अध्यक्ष पीटीआर शमशेर सिंह बिष्ट ने केंद्र सरकार से मांग की कि चीन की किसी भी कंपनी को भारत में कोई भी टेंडर ना दिया जाए पूर्णता सभी कंपनियों के कार्यों को निरस्त किए जाए श्री बिष्ट ने जनता से अपील करी कि चीन के सामान का भी इस्तेमाल ना किया जाए इस अवसर में संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष पी टी आर शमशेर सिंह बिष्ट, संगठन मंत्री कैप्टन सुरेंद्र बिष्ट, कार्यालय प्रभारी सूबेदार वाई डी शर्मा, जिला प्रभारी कैप्टन यू डी जोशी, टी एस सिसोदिया, सूबेदार प्रेम सिंह रावत, हवलदार बलबीर सिंह, सूबेदार मेजर राजे सिंह बिष्ट, नायक दिलवर सिंह रावत आदि बड़ी संख्या में पूर्व सैनिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.