Breaking News
Home / उत्तराखंड / सेलून ओर ब्यूटी पार्लर मालिको ने की बैठक,आर्थिक तंगी के चलते बन्द होने के कगार पर
सेलून ओर ब्यूटी पार्लर मालिको ने की बैठक,आर्थिक तंगी के चलते बन्द होने के कगार पर

सेलून ओर ब्यूटी पार्लर मालिको ने की बैठक,आर्थिक तंगी के चलते बन्द होने के कगार पर

देहरादून

ब्यूटी पार्लर और सैलून चलाने वाली संचालिकाए अब एकजुट होकर अपने अधिकारो की रक्षा के लिए संघर्ष करेगी। इसके लिए बकायदा एक एसोसिएशन गठन करने का निर्णय लिया गया है।
नेहरू कॉलोनी के एक ब्यूटी पार्लर में ब्यूटी पार्लर और सैलून संचालिकाए मौजूद थी।

बैठक में मोजूद कोंग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव टीटू त्यागी ने अपने सम्बोधन में कहा कि वास्तव में आज कोरोना काल से सभी परेशान हैं।जहाँ एक ओर बड़े बिजनेस वाले परेशान हे वहीँ आम जनमानस छोटे दुकानदार
आज अपनी रोजी रोटी के लिए परेशान है। इस समय खुद को फिलहाल जिंदा रखने की मुहिम चल रही है। काम धंधे ठप्प पड़े हैं। ऐसे में सरकार को आगे आकर इनकी मदद करनी चाहिए थी। लेकिन इनकी परेशानी सुनने वाला कोई नही है।
इस मौके पर बैठक की संयोजक पूनम चौधरी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान सबसे पहले ब्यूटी पार्लर ओर सैलून बन्द किये गए थे।जो बाद तक नही खुले।आज जब खुले तो कस्टमर आने को तैयार नही है।हज़ारों रुपये दुकान के मालिक के देने हैं। उधारी बढ़ती जा रही है सबकि हालत एक जैसी है और परिवार का पालन-पोषण करना मुश्किल हो गया है।
सरकार ने अगर आगे बढ़कर हमारे लिए कोई निती नही बनाई तो आंदोलन करने को बाध्य होंगे। ओर यदि हम में से किसी ने खुद के लिए कोई गलत कदम उठाया तो जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।
इन्होंने राज्य सरकार से मांग की कि कोरोना संकट के कारण आर्थिक समस्या से जूझ रही पार्लर और ब्यूटी सैलून संचालिकाओ को आर्थिक मदद की जाये।
मोके पर कहा गया कि इसके लिए एक ज्ञापन राज्य सरकार को भेजा जायेगा और महिला एवं बाल विकास मंत्री तथा मुख्‍यमंत्री से मुलाकात कर अपनी समस्‍याओ को उन तक पहुंचाया जायेगा।

उनका कहना था सरकार की एकमात्र महिला मंत्री ब्यूटी पार्लर और सैलून चलाने वाली महिलाओ को किस तरह सशक्तिकरण कर बढ़ावा देना चाहती हैं। महिलाओ के लिए क्या खास योजना शुरू कर सकती हैं। इस संकटकाल में हम मांग करते है कि हमारी ओर भी वह सकारात्‍मक ध्‍यान दे।
पूनम चौधरी ने कहा कि आज राजधानी में ब्यूटी पार्लर और सैलून चलाने वाली संचालिकाये महिला सशक्तिकरण की मांग कर रही है, महिलाओं के लिए दीन दयाल उपाध्याय सामाजिक सुरक्षा कोष की स्थापना के तहत उनकी मदद की जाय।
ब्यूटी पार्लर एवं सैलून संचालिका महिलाओं के कल्याण के लिए भी अनेकों योजनाएं शुरू की जाने चाहिए, अपना व्यवसाय करने वाली महिलाओ के रोजगार पर संकट के बादल है तो पलायन कैसे रूकेगा, इसका दूरगामी प्रभाव पूरे परिवार पर पड रहा है। आने वाले दिनों में इसके भयावह परिणाम सामने आएंगे।
चौधरी ने कहा कि अगली मीटिंग तक एसोसिएशन का गठन कर दिया जायेगा।आज की मीटिंग में देहरादून से ब्यूटी पार्लर और सैलून चलाने वाली महिलाओ में पूनम चौधरी,गीता खन्ना,सुमन चौहान,मंजुला शर्मा,संगीता बहुगुणा,रेणु वर्मा,नन्दिनी चौधरी,
दीपा कुमारी,रफीक आदि मौजूद थे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top