Home / उत्तराखंड / हाउस टैक्स को सर्किल रेट के आधार तय करने का निर्णय पूर्ण रूप से अव्यवहारिक, टेक्स जमा करने की अंतिम तारीख 15 मार्च हो….लालचंद शर्मा
हाउस टैक्स को सर्किल रेट के आधार तय करने का निर्णय पूर्ण रूप से अव्यवहारिक, टेक्स जमा करने की अंतिम तारीख 15 मार्च हो….लालचंद शर्मा

हाउस टैक्स को सर्किल रेट के आधार तय करने का निर्णय पूर्ण रूप से अव्यवहारिक, टेक्स जमा करने की अंतिम तारीख 15 मार्च हो….लालचंद शर्मा

देहरादून

 

 

महानगर कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमण्डल ने देहरादून महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा के नेतृत्व में नगर निगम आयुक्त से मुलाकात कर देहरादून महानगर की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराते हुए ज्ञापन सौंपा।

 

नगर आयुक्त को सौंपे ज्ञापन में महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से हाउस टैक्स को सर्किल रेट के आधार पर तय करने का निर्णय लिया गया है जो कि पूर्ण रूप से अव्यवहारिक है। इस निर्णय से हाउस टैक्स काफी बढ़ जायेंगे तथा आम गरीब जनता को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। चूंकि पूर्व में ही हाउस टैक्स में 100 प्रतिशत की वृद्धि की गई है अब सर्किल रेट के अनुरूप टैक्स निर्धारित करने से शहरी क्षेत्र की गरीब बस्ती में बसे लोगों पर इसका दबाव पड़ेगा। नगर निगम क्षेत्र में लगभग डेढ़ लाख परिवार निवास करते हैं जिनमें से कई परिवारों की आर्थिक स्थिति कमजोर है। अतः कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि हाउस टैक्स को सर्किल रेट से न जोडा जाए तथा बढे हुए हाउस टैक्स को कम किया जाय तथा टैक्स जमा करने की अवधि 15 मार्च की जाय। उन्होंने यह भी कहा कि नगर निगम की द्वारा महानगर में स्मार्ट वेंडिंग जोन बनाने का निर्णय लिया गया है। काग्रेस पार्टी की मांग की है कि जो लोग पहले से वेंडिंग जोन में काम कर रहे हैं उन लोगों को इसमें प्राथमिकता देते हुए नये स्मार्ट वेंडिंग जोन में जगह दी जाए। नगर निगम की ओर से नए वार्डों में कूड़ा उठान का काम शुरू किया गया है जिसके लिए भारी शुल्क वसूला जा रहा है। चूंकि नये वार्ड लगभग दो वर्ष पूर्व ही नगर निगम में शामिल हुए हैं तथा अभी इन वार्डों में मूलभूत सुविधाओं का भी विकास नहीं हो पाया है अतः नये वार्डों में सफाई शुल्क कम किया जाना चाहिए साथ ही नये वार्डों में मूलभूत सुविधाओं का भी विस्तार किया जाय।

 

प्रतिनिधिमण्डल ने कहा कि नगर निगम द्वारा पुराने ठेली लाइसेंस के नवीनीकरण पर प्रतिबंध लगाया गया है। वर्तमान में वैश्विक महामारी कोरोना के चलते दूसरे शहरों में रोजगार के लिए गये लोग बेरोजगार होकर वापस लौटे हैं तथा फल, सब्जी बेचकर अपने परिवार का भरण-पोषण कर रहे हैं। इस हेतु पुराने ठेली लाइसेंस के नवीनीकरण पर लगा प्रतिबंध हटाया जाए, ताकि वे लोग लाइसेंस नवीनीकरण करवाकर पुनः अपना स्वरोजगार कर सकें। नगर निगम के सीमा विस्तार के बाद एरिया काफी बढ़ गया है जबकि कि लंबे समय से सफाई कर्मचारी की भर्ती नहीं हुई है इसलिए कांग्रेस की मांग है कि नगर निगम में सफाई कर्मचारी के साथ ही सामान्य कर्मचारी की भर्ती की जाए ताकि निगम क्षेत्र में जनता को आवश्यक सुविधायें मुहैया हो सकें।

 

फ्लाई ओवर के नीचे गन्दगी के ढेर लगे हुए हैं तथा लोगों ने अवैध कब्जा कर अपना व्यवसाय चलाया जा रहा है तथा फ्लैग पोस्टर लगा कर अतिक्रमण किया गया है। अतः फ्लाई ओवरों के नीचे गन्दगी को हटाया जाय तथा अवैध रूप से लगाये गये पोस्टर होर्डिंग्स को हटाया जाय।

मुख्य नगर आयुक्त ने सभी समस्याओं पर त्वरित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

 

इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष डाॅ0 विजेन्द्र पाल, पूर्व नेता प्रतिपक्ष नीनू सहगल, आनन्द त्यागी,पार्षद कोमल बोरा, देविका रानी, सविता सोनकर, अर्जुन सोनकर, अनूप कपूर, मामचन्द, हरिप्रसाद भ्ट्ट, रमेश कुमार मंगू, मोहन गुरूंग, सचिन थापा, अनिल क्षेत्री, इलियास अंसारी, महेन्द्र रावत, अमित भण्डारी, सुभाष धस्माना, सिद्धार्थ वर्मा, मुकेश सोनकर, सोम बाल्मीकि आदि शामिल थे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top