Home / Uncategorized / पर्यटन विभाग पर्यटन एवं तीर्थाटन को बढ़ाने को स्थानीय पौराणिक स्थलों को चिन्हित कर सर्किट में शामिल करने की योजना बना रहा…सतपाल महाराज
पर्यटन विभाग पर्यटन एवं तीर्थाटन को बढ़ाने को स्थानीय पौराणिक स्थलों को चिन्हित कर सर्किट में शामिल करने की योजना बना रहा…सतपाल महाराज

पर्यटन विभाग पर्यटन एवं तीर्थाटन को बढ़ाने को स्थानीय पौराणिक स्थलों को चिन्हित कर सर्किट में शामिल करने की योजना बना रहा…सतपाल महाराज

देहरादून/चम्पावत

राज्य में अनेक स्थानों पर पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए रोपवे का निर्माण किया जा रहा है। इसी के तहत ठुलीगाड़ से पूर्णागिरि देवी रोपवे परियोजनाओं का निर्माण पीपी मोड पर चल रहा है। उक्त बात आज यहां बाराही मंदिर देवीधुरा परिसर में केंद्र पोषित स्वदेश योजना हेरिटेज सर्किट के तहत 1581.00 लाख रूपये की लागत से पर्यटन सुविधाओं के विकास कार्यों का लोकार्पण करते
प्रदेश के पर्यटन, सिंचाई एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने अपने संबोधन में कही।

महाराज ने कहा कि राज्य में अनेक स्थानों पर पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए रोपवे का निर्माण किया जा रहा है। जिसमें कद्दूखाल से सुरकंडा देवी एवं ठुलीगाड़ से पूर्णागिरि देवी रोपवे परियोजनाओं का निर्माण पीपी मोड पर किया जा रहा है। उन्होने कहा कि विश्व के सबसे लंबे 5 रोपवे में से एक देहरादून से मसूरी तक 300 करोड़ की रोपवे योजना पर भी कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। इसके अलावा नैनीताल और दीवा का डांडा आदि कई स्थलों पर भी रोपवे प्रस्तावित हैं।

महाराज ने कहा कि पर्यटन विभाग राज्य के सभी जनपदों में पर्यटन एवं तीर्थाटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय पौराणिक महत्व के स्थलों को चिन्हित कर उन्हें सर्किट में शामिल करने की योजना पर कार्य कर रहा है। यहाँ के पौराणिक क्रांतेश्वर महादेव को शिव सर्किट, नागनाथ मंदिर एवं गोरलचौड़ मैदान स्थित गोलज्यू मंदिर को नागराजा एवं गोलज्यू मंदिर और रमक के सूर्य मंदिर को नवग्रह सर्किट में शामिल किया गया है।

प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने लोकार्पण कार्यक्रम में उपस्थित क्षेत्रीय जनता को संबोधित करते हुए कहा कि भारत सरकार की स्वदेश दर्शन योजना के अंतर्गत हेरिटेज सर्किट में शामिल अल्मोड़ा स्थित कटारमल में इंटरपिटेशन सेंटर, लैंडस्कैपिंग व साईट एमिनिटीज, जागेश्वर में पार्किंग, दानेश्वर इको लॉग हट्स, बागेश्वर स्थित बैजनाथ में इनको लॉग हट्स, पार्किंग, घाट डेवलपमेंट एवं यहाँ स्थित देवीधुरा में बाराही योद्धा बिल्डिंग, रूरल स्पोर्ट सेंटर और साईड डेवलपमेंट के तहत कुल 68 करोड़ 90 लाख 64 हजार के विकास कार्य किए गए हैं। उन्होने बताया कि राज्य के विभिन्न जनपदों में जल के संवर्धन और संरक्षण हेतु सिंचाई विभाग जलाशयों का निर्माण कर रहा है। रानीखेत, पिथौरागढ़, लोहाघाट, देहरादून एवं पौड़ी के ग्रामीण क्षेत्रों में जल संरक्षण के साथ-साथ पर्यटन को बढ़ावा देने और रोजगार की दृष्टि से मत्स्य पालन की संभावनाओं को देखते जलाशयों का निर्माण किया जा रहा है। सिंचाई मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा कि हमारी सरकार के कार्यकाल में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना हर खेत को पानी के तहत लघु सिंचाई विभाग ने नवंबर 2020 तक 770 किमी सिंचाई गूलों का निर्माण करने के साथ-साथ 2161 सिंचाई हौज, 4 यूनिट हाईड्रम, 109 आर्टीजन कूप तथा 945 पंप सेट की स्थापना कर 17525 हेक्टेयर भूमि की सिंचन क्षमता का सृजन किया है।
कार्यक्रम से पूर्व श्री सतपाल महाराज ने सिद्ध पीठ मष्टा महाराज मंदिर परिसर पाटी विकासखण्ड में भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों एवं स्थानीय लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्यायें सुनने के अलावा बांजगांव, कडवाल गाँव, खेतखान के सिद्ध नरसिंह बाबा मंदिर में पूजा अर्चना करने के पश्चात मंदिर के कोष में अपनी संस्था से 1 लाख रुपये देने की घोषणा भी की। देवीधूरा स्थित बाराही देवी मंदिर परिसर में आयोजित लोकार्पण समारोह सतपाल महाराज ने स्थानीय निवासी श्रीमती हेमा जोशी को किडनी रोग से पीड़ित उनके पति के इलाज हेतु अपनी संस्था मानव उत्थान सेवा समिति से एक लाख रुपये की धनराशि देने की भी घोषणा भी की।

पूरण फर्यत्याल, विधायक लोहाघाट, केएमवीएन के अध्यक्ष केदार दत्त जोशी, बाराही मंदिर कमेटी के संरक्षण लक्ष्मण सिंह भाजपा जिला उपाध्यक्ष पुष्कर पुजारी, प्रकाश बोहरा मण्डल अध्यक्ष, ललित मोहन कुँवर जिला पंचायत उपाध्यक्ष, जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योति राय, ब्लाक प्रमुख की सुमन लता, दीपक भट्ट, गोविन्द पंगरिया, आदि मौजूद थे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top