Breaking News
Home / उत्तराखंड / मोबाइल लूट में तीन किशोर बाइक समेत दबोचे
मोबाइल लूट में तीन किशोर बाइक समेत दबोचे

मोबाइल लूट में तीन किशोर बाइक समेत दबोचे

देहरादून।
मोबाइल लूट में तीन किशोरों से लूट के मोबाइल व प्रयुक्त बाइक बरामद।
मनोहर लाल कलाल पुत्र छगनलाल ग्राम मालसी, मसूरी डाइवजन थाना राजपुर, देहरादून ने थाना राजपुर पर शिकायत की कि मंगलवार की शाम को मैक्स हॉस्पिटल से घर जा रहा था तो मोबाइल पर बात करते समय पीछे से तीन लड़के एक बाइक पैसन पर मेरे बगल से आये और एकदम मोबाइल वन प्लस 7 छीनकर मोटर साईकल से भाग गए। इस सूचना पर तत्काल अभियोग पंजीकृत किया गया। जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा उक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए घटना के शीघ्र अनावरण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए, जिस पर थानांध्यक्ष राजपुर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया, टीम द्वारा घटना के आस पास लगे सीसीटीवी की जांच की गई, तथा इस प्रकार की घटना करने वालो के सबंध में पुलिस सूत्रों को भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए, तथा आस पास के लोगो से भी जानकारी एकत्रित की गई, तो जानकारी मिली कि एक बाइक पर तीन लड़के इस रोड पर अक्सर देखे जाते हैं, और वह इधर उधर घूमते रहते हैं, उनके द्वारा अन्य लोगो से भी मोबाइल छीने गए हैं, इनमें से एक लड़का लंबी हाइट का है, उक्त सूचना पर उक्त संदिग्ध की गिरफ्तारी हेतु सादे वस्त्रों में पांच पुलिस कर्मियों को चिन्हित स्थानों पर लगाया गया तथा ऐसे हुलिए व मोटर साईकल की तलाश प्रारम्भ की गई। शाम को सादे वस्त्रों में नियुक्त पुलिस कर्मी जब मंसूरी रोड पर आर्यन स्कूल की तरफ से मैक्स हॉस्पिटल की और आ रहे थे तो सामने से एक मोटर साईकल पर तीन व्यक्ति आते दिखाई दिए, जो बताए गये हुलिए से मैच हो रहे थे, तभी इनको इशारा कर रोकने का प्रयास किया तो यह नही रुके, तभी इनको अपने प्राइवेट वाहनों से दौड़कर मंसूरी रोड पर पकड़ लिया, इनकी तलाशी पर इनके पास छीने गए मोबाइल बरामद हुए, यह देखने मे किशोर प्रतीत हो रहे थे, इनकी उम्र की जानकारी की गई तो यह तीनों 18 वर्ष से कम आयु के है, जो कि विधि विवादित किशोर की श्रेणी में आते है, इनको विधि अनुसार पुलिस संरक्षण में लिया गया, बरामद मोबाइल व मोटर साईकल को कब्जे पुलिस लिया गया, इनको कल बाल संरक्षण बोर्ड के समक्ष पेश किया जाएगा।इन्होंने बताया कि इनमें से दो लड़के आपस मे मामा भांजा है, तथा एक दोस्त हैं, दो लड़के मूल रूप से आगरा के रहने वाले हैं, तथा एक नोएडा के रहने वाला है, इनमें एक लड़के को इंटरनेट के लिए डिवाइस के लिए पैसों की जरूरत थी, तथा इन तीनो को ही अच्छे अच्छे मोबाइल रखने का शोक है, जो मोबाइल इनको पसंद नही आता था उसको यह ओ एल एक्सके माध्यम से बेचते थे, इनमें से एक लड़का NDA की तैयारी कर रहा है, तथा दो लड़के 11 वीं में पढ़ाई कर रहे हैं, तीनो एक दूसरे को जानते हैं, करीब 15-20 दिन पहले इन्होंने योजना बनाई की लोगो से कैसे मोबाइल छीनकर भाग जाना है, इसी प्रकार इन्होंने अब तक करीब आधा दर्जन लोगो से मोबाइल छीनने की घटना को स्वीकार किया है, तथा बरामद मोबाइल वही है।
बरामद मोबाइल के संबंध में उनके स्वाIमियों से संपर्क किया जा रहा है। मात्र 8 घंटे के अंदर घटना का सफल व शीघ्र अनावरण किये जाने पर क्षेत्रीय लोगो द्वारा प्रंशसा की है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top