Home / Featured / फर्जी कंपनी खोलकर आरडी, एफडी मैच्योरिटी के नाम पर करोड़ों की धोखाधड़ी करने में दो गिरफ्तार
फर्जी कंपनी खोलकर आरडी, एफडी मैच्योरिटी के नाम पर करोड़ों की धोखाधड़ी करने में दो गिरफ्तार

फर्जी कंपनी खोलकर आरडी, एफडी मैच्योरिटी के नाम पर करोड़ों की धोखाधड़ी करने में दो गिरफ्तार

देहरादून
शनिवार 5 सितम्बर को वादी नरेश चंद्र कुकरेती पुत्र ललित मोहन कुकरेती निवासी प्रतीत नगर रायवाला देहरादून के द्वारा लिखित तहरीर कैलाशी विजन प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड नामक कंपनी के प्रबन्धको द्वारा प्राधिकृत न होने के बावजूद जनपद देहरादून व अन्य जनपद व राज्यो मे फर्जी तरीके से लोगो को गुमराह कर कम्पनी की ब्रांच खोलकर फर्जी खाते खोलकर लोगो से आरडी, एफडी व डेली डिपाजिट स्कीम व लोन देने के नाम पर लोगो से धोखाधडी करने के सम्बन्ध मे लिखित तहरीरी दी । इसके आधार पर थाना हाजा पर मु0अ0सं0-113/2020 धारा- 406,420 आईपीसी बनाम कमल भारती आदि पंजीकृत किया गया| उक्त कम्पनी के सम्बन्ध मे एसटीएफ देहरादून द्वारा भी जांच की जा रही थी ।
विवेचना के सफल अनावरण हेतु डीआईजी/एसएसपी देहरादून द्वारा आदेश के बाद थाना रायवाला के नेतृत्व में टीम गठित कर उचित दिशा निर्देश दिए गए|
दौराने विवेचना व एसटीएफ की जांच मे पाया की कमल भारती पुत्र हीरालाल भारती निवासी उत्तर प्रदेश एवं नसीबुद्दीन पुत्र हसमत अली निवासी सेलाकुई, देहरादून व अन्य के द्वारा जनवरी 2018 मे फर्जी तरीके व गलत तथ्यो के आधार पर कैलाशी विजन प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड कद नाम से करीब 23 ब्रांच खोली गयी, जिसमे से 13 ब्राचें देहरादून व 1 ब्रांच कोटद्वार व 5 ब्रांच नजीवाबाद व 3 ब्रांच मध्य प्रदेश मे खोली गयी थी, जिनमे करीब 9000/- ग्राहको के खाते खोलकर आरडी, एफडी व डेली डिपाजिट स्कीम व लोन के नाम पर कम्पनी ने करीब 28 करोड रूपये प्राप्त किये व कुछ ग्राहको को मैच्योरिटी की रकम भुगतान के बाद अधिकांश लोगो को उनकी रकम का भुगतान नही किया गया है, वर्तमान में कम्पनी लोगो की रकम देने मे असमर्थ है व कम्पनी के खाते वर्तमान मे कोई धनराशि शेष नही है। वादी श्री नरेश कुकरेती द्वारा बताया गया की रायवाला ब्रांच मे कम्पनी के करीब 110 खाताधारको के 40 लाख रूपये की धनराशि नही लौटायी गयी है, उनका कम्पनी के प्रबन्धको से सम्पर्क नही हो पा रहा है तथा वह लोगो का पैसा धोखाधडी से प्राप्त कर भाग गये है। विवेचना /जांच के दौरान कम्पनी के विरुद्ध प्राप्त तथ्यो के आधार पर बामुश्किल कम्पनी के प्रबंध निदेशक कमल भारती व निदेशक नसीबुद्दीन को पूछताछ हेतु बुलाया व पूछताछ मे दोनो के द्वारा कम्पनी का निदेशक होना बताया, दोनो व्यक्तियो द्वारा संयुक्त रूप से कम्पनी के खाते मे प्राप्त समस्त धनराशि का स्वयं आहरण कर विभिन्न जगह उपयोग करना बताया व कम्पनी के ग्राहको की करोडो रूपये की बकाया धनराशि देने मे असमर्थता जाहिर की व फर्जी कम्पनी के संचालन करने के सम्बन्ध मे माफी मांगी। उक्त दोनो कंपनी के निदेशकों/ अभियुक्तो को थाना रायवाला पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया । अभियुक्तों कमल भारती पुत्र हीरालाल भारती निवासी ग्राम इस्सेपुर थाना नजीबाबाद, जिला बिजनौर, उत्तर प्रदेश( प्रबंध निदेशक) और नसीमुद्दीन पुत्र हसमत अली निवासी जमनपुर, थाना सेलाकुई , देहरादून (निदेशक) द्वारा फर्जी कंपनी बनाकर उसकी कई ब्रांच जगह-जगह खोलकर आरडी, एफडी मैच्योरिटी में पैसे को दुगना-तिगुना करने व अधिक ब्याज दर देने का लालच देकर धोखाधडी से लोगो का पैसा जमा कराया जाना व लोगो की रकम हडपना तथा बाद में उनका पैसा ना देकर उनके साथ धोखाधड़ी करना।
जिसमे कम्पनी का प्रबन्धक निदेशक कमल भारती बी.ए. पास है जो पूर्व मे कोरियर कम्पनी मे डाक बाटने का काम करता था व उसके पश्चात जनशक्ति कोपरेटिव/जनबन्धन निधि कंपनी मे वर्ष 2018 तक एजेन्ट के रूप मे कार्य करता था व जनबन्धन निधि के संचालक के जेल जाने के बाद कमल भारती द्वारा अपने अन्य साथियो के साथ जनवरी 2018 मे उक्त फर्जी कम्पनी खोली व अभियुक्त नसीमुद्दीन 5वी कक्षा पास है व पूर्व मे दिहाडी मजदूरी का कार्य करता था व वर्ष 2017 मे जनबन्धन निधि मे एजेन्ट के रूप मे कार्य करता था व 2018 मे जनबन्धन निधि के सचांलक के जेल जाने के बाद उक्त कम्पनी खोली गयी व कम्पनी का रजिस्टर्ड आफिस भी अपने घर ग्राम जमनपुर सेलाकुईं जनपद देहरादून मे खोला गया था ।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top