Home / Featured / पौड़ी की न्यार वैली एडवेंचर स्पोर्ट्स फेस्टिवल में कुछ अलग उत्साह में दिखे युवा खिलाड़ी
पौड़ी की न्यार वैली एडवेंचर स्पोर्ट्स फेस्टिवल में कुछ अलग उत्साह में दिखे युवा खिलाड़ी

पौड़ी की न्यार वैली एडवेंचर स्पोर्ट्स फेस्टिवल में कुछ अलग उत्साह में दिखे युवा खिलाड़ी

देहरादून/पौड़ी

पौड़ी जनपद के सतपुली, बिलखेत क्षेत्र में चार दिवसीय ‘‘नयार वैली एडवेंचर स्पोटर्स फेस्टिवल 2020’’ का दूसरा दिन काफी रोमांच से भरा रहा। फेस्टिवल के दूसरे दिन छावनी शहर लैंसडौन से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के पैतृक गांव खैरासैंण के लिए 22 धावकों ने ट्रेल रनिंग में भाग लिया। सुबह 8 बजे लैंसडाउन में गांधी चैक से कमांडेंट जीआरआरसी ने बतौर मुख्यातिथि के रूप में ट्रेल रनिंग प्रतिभागियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

ट्रेल रनिंग में गढ़वाल राइफल के बारह जवान, बीएसएफ के छ जवान सहित तीन बिलखेत व बूंगा के चार स्थानीय युवाओं ने प्रतिभाग किया। ट्रेल रनिंग लैंसडाउन में गांधी चैक से शुरू होते हुए देहलिखाल- चुंड़ई- पीड़ागांव- कंडाखाल-हन्डोल से खेरासैण में समापन हुआ। जिसमें सबसे पहले गढ़वाल राइफल के जवान मनमोहन पहुंचे। ट्रेल रनिंग पूरी करने के बाद युवाओं में खासा उत्साह देखने को मिला।

ट्रेल रनिंग में सबसे पहले पहुंचे गढ़वाल राइफल के जवान मनमोहन ने बताया कि ट्रेल रनिंग में मैंने पहली बार हिस्सा लिया इससे पहले रोड पर ही रनिंग की थी। आज ट्रेल रनिंग में जंगलों के रास्ते के बीच से रनिंग करना रोमांचकारी रहा।

ट्रेल रनिंग समन्वयक दीपक दलाल ने कहा कि आज की ट्रेल रनिंग में सभी धावक खैरासैन पहुँचे जहाँ से गाड़ी के माध्यम से धावकों को बेस कैम्प बिलखेत भेजा गया जहाँ से कल की ट्रेल रनिंग शुरू होगी ।

वहीं माउंटेन ट्रैकिंग बाइकर्स प्रतियोगी दूसरे दिन शुक्रवार को प्रातः बिलखेत से साइकिलिंग घंडियाल एवं रांसी स्टेडियम मैदान होते हुए परसुंडाखाल के लिए रवाना हुए। पहले दिन गुरूवार को लैंसडौन में क्षेत्रीय विधायक दिलीप सिंह रावत ने सभी माउंटेन ट्रैकिंग बाइकर्स को हरी झंडी दिखाकर तीन दिवसीय साइकिलिंग प्रतियोगिता के लिए रवाना किया था। आज दूसरा दिन सभी माउंटेन ट्रैकिंग बाइकर्स परसुंडाखाल में विश्राम करेंगे।

नयारघाटी एडवेंचर स्पोर्ट्स फेस्टिवल प्रतियोगिता में पैराग्लाइडिंग की प्रतियोगितात्मक उड़ानो में 52 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में अभी तक कुल 150 उड़ाने भरी गयी जबकि 10 टेंडम उड़ाने भी भरी गयी जिनमें पायलट के साथ एक-एक अन्य व्यक्ति भी उड़ान में शामिल होता है ।

विशेषज्ञों का कहना है कि यहाँ अन्तराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता आयोजित की जा सकती है यह घाटी इस साहसिक खेल के लिए नयी खोज के रूप में देखी जा रही है। पैराग्लाइडर विशेषयज्ञ नयारघाटी पैराग्लाइडिंग के लिए बहुत ही बेहतरीन साइट है देशभर से आये पैराग्लाइडर पायलट यहाँ पहुँच कर बहुत रोमांचित है और अपनी प्रतियोगता में प्रतिभाग कर रहे है।

प्रतियोगिता में उत्तराखण्ड राज्य के साथ ही हिमांचल प्रदेश, लद्दाख, महाराष्ट्र, अरूणाचल प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, हरियाणा, कर्नाटक, पंजाब, बंगाल और नेपाल से आए 80 पैराग्लाइडर्स ने पंजीकरण कराया है।

महोत्सव के तहत पैराग्लाइडिंग के अलावा पैरामोटर्स, हैंग ग्लाइडर व द्रोण का प्रदर्शन विशेषज्ञों की ओर से किया जाएगा।

इस अवसर पर खुशहाल सिंह नेगी डीटीडीओ पौड़ी, विनय कुमार, पैराग्लाइडिंग विशेषज्ञ मनीष जोशी, मयंक घिल्डियाल, ग्रुप केप्टिन आलोक चटर्जी, अजय कंडारी सहित कई लोग मौजूद रहे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top