रविवार की देर रात एसएसपी अजय सिंह ने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ की गई मासिक अपराध गोष्ठी,दून के नागरिकों से जुड़े कई मुद्दों को लेकर किए निर्देश जारी – Latest News Today, Breaking News, Uttarakhand News in Hindi

रविवार की देर रात एसएसपी अजय सिंह ने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ की गई मासिक अपराध गोष्ठी,दून के नागरिकों से जुड़े कई मुद्दों को लेकर किए निर्देश जारी

देहरादून

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा पुलिस कार्यालय स्थित सभागार में जनपद के अधीनस्थ अधिकारियों के साथ मासिक अपराध गोष्ठी ली गई। देर रात तक चली विस्तृत गोष्ठी के दौरान पूर्व में घटित अपराधों की समीक्षा के साथ साथ उपस्थित अधिकारियो को निम्न दिशा-निर्देश दिये गये…

01: धोखाधडी के अपराध में लिप्त अभियुक्तों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करते हुए उनके द्वारा अवैध रूप से अर्जित की गयी सम्पत्ति को चिन्हित करते हुए उसके जब्तीकरण हेतु आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये, जिससे ऐसे अभियुक्तों पर कानूनी शिकंजा कसते हुए आर्थिक रूप से भी चोट पहुँचाई जा सके।

02: कमर्शियल क्वांटिटी मेंए बरामद मादक पदार्थों के अभियोगों में एनडीपीएस एक्ट के तहत चल रही फाइनेंशियल इन्वेस्टीगेशन की थानावार समीक्षा करते हुए चिन्हित किये गये अभियुक्तों व उनकी सम्पत्ति के चिन्हिकरण हेतु की गई कार्यवाही के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करते हुए त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

03: गौकशी तथा अवैध पशु कटान में लिप्त अभियुक्तों के विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही किये जाने के सम्बन्ध में पूर्व में दिये गये निर्देशों की समीक्षा करते हुए ऐसे सभी अभियुक्त जिनके विरूद्ध अब तक गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही की गई है तथा अन्य अभियुक्त जिन्हें कार्यवाही हेतु चिन्हित किया गया है के विषय में जानकारी प्राप्त करते हुए ऐसे सभी अभियुक्तों की अवैध सम्पत्ति के जब्तीकरण हेतु आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये गये।

04: आई0टी0 एक्ट के लम्बित अभियोगो की समीक्षा के दौरान अब तक की गई कार्यवाही के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की गई, साथ ही शेष कार्यवाही को यथाशीघ्र पूर्ण कर अभियोगों के गुणदोष के आधार पर त्वरित निस्तारण के निर्देश दिये गये।

05: गैंगस्टर एक्ट के तहत पंजीकृत अभियोगों में अभियुक्तों की अवैध सम्पत्ति के चिन्हिकरण व जब्तीकरण हेतु की गई कार्यवाहियों के सम्बन्ध में सम्बन्धित थाना प्रभारियों से जानकारी प्राप्त की गई, साथ ही ऐसे सभी प्रकरण जिनमें चिन्हिकरण की कार्यवाही किया जाना शेष है, उक्त प्रकरणों में उनके लम्बित रहने के कारणों की जानकारी प्राप्त करते हुए सम्बन्धित थाना प्रभारियों को सख्त हिदायत दी गई।

06: वाहन चोरी की अधिकांश घटनाओं में नवयुवकों द्वारा घटनाओ को अंजाम दिया जाना प्रकाश में आने पर सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्रों में वाहन चोरी की घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाने हेतु नव युवक वाहन चालकों की प्रभावी चैकिंग सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये।

07: ऐसे सभी प्रकरण जिनमें पीडित को प्रतिकर हेतु पुलिस रिपोर्ट प्रेषित की जाती है, उक्त सभी प्रकरणों में समय से पुलिस रिपोर्ट सम्बन्धित को प्रेषित करने तथा इसके किसी भी प्रकार की कोताही न बरतने के सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिये गये।

08: लम्बित प्रार्थना पत्रों की समीक्षा के दौरान 03 माह से अधिक अवधि से लम्बित प्रार्थना पत्रों के लम्बित रहने के कारणों के सम्बन्ध में जानकारी लेते हुए उनके शीघ्र निस्तारण के निर्देश दिये गये, साथ ही CM पोर्टल/CCTNS/ सिटीजन पोर्टल व अन्य माध्यमो से प्राप्त प्रार्थना पत्रों के समयबद्ध निस्तारण के निर्देश देते हुए प्रार्थना पत्रों को अनावश्यक रूप से लम्बित रखने पर सम्बन्धित अधिकारी के साथ-साथ सम्बन्धित थाना प्रभारी के विरूद्ध भी कडी कार्यवाही किये जाने की हिदायत दी गई।

09: सडक दुघर्टनाओ पर प्रभावी अंकुश लगाने हेतु सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्रों में नियमित रूप से रैश ड्राइविंग, ओवर स्पीडिंग, ड्रकन ड्राइव आदि के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।

10: दिनांक: 01-07-24 से सम्पूर्ण भारत में लागू हो रहे 03 नये कानूनों के सम्बन्ध में पुलिस कर्मियों को आनलाइन प्रशिक्षण प्रदान किये जाने हेतु लांच किये गये आई गौट कर्मयोगी एप के माध्यम से सभी कर्मचारियों को नये कानूनों के सम्बंध में जानकारी प्राप्त करने तथा आम जनमानस के मध्य उक्त कानूनों का विभिन्न माध्यमों से व्यापक प्रचार प्रसार सुनिश्चित करने के सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिये गये।

11: जनपद में निवासरत बाहरी व्यक्तियों/किरायेदारों व घरेलू नौकरों के सत्यापन हेतु सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्रों में नियमित रूप से सत्यापन अभियान चलाये जाने हेतु निर्देशित किया गया, जिसकी समय समय पर संबंधित अधिकारियों द्वारा समीक्षा की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.