Home / उत्तराखंड / तिलकराज बेहड़ के समर्थन में सांकेतिक धरना,भाजपा के इशारे पर कांग्रेस नेताओं को प्रताडित किया जा रहा…प्रीतम सिंह
तिलकराज बेहड़ के समर्थन में सांकेतिक धरना,भाजपा के इशारे पर कांग्रेस नेताओं को प्रताडित किया जा रहा…प्रीतम सिंह

तिलकराज बेहड़ के समर्थन में सांकेतिक धरना,भाजपा के इशारे पर कांग्रेस नेताओं को प्रताडित किया जा रहा…प्रीतम सिंह

 

देहरादून
उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कांग्रेस नेता तिलक राज बेहड एवं उनके साथियों के खिलाफ आपदा प्रबन्धन अधिनियम की संगीन धाराओं में झूठे मुकदमे दर्ज किये जाने को भाजपा नेताओं के इशारे पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रताडित करने की साजिश बताते हुए तिलक राज बेहड के समर्थन में प्रदेश कांग्रेस कार्यालय देहरादून के प्रांगण में स्व. राजीव गांधी की प्रतिमा के सम्मुख धरना देकर विरोध जताया।
ज्ञातव्य हो कि कांग्रेस नेता तिलकराज बेहड पर लगाये गये झूठे मुकदमों के विरोध में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के आह्रवान पर कांग्रेसजनों द्वारा उनके समर्थन में प्रदेशभर में अपने-अपने स्थान पर सांकेतिक धरना देकर समर्थन दिया गया। इसी कार्यक्रम के प्रीतम सिंह के नेतृत्व में प्रदेश कांग्रेस कार्यालय देहरादून के प्रांगण में स्व.राजीव गांधी की प्रतिमा के सम्मुख धरना देकर विरोध जताया गया।
प्रीतम सिंह ने कहा कि जनपद उधमसिंहनगर के मलसा गिरधरपुर मे घटित हिंसा की घटना राज्य सरकार की निष्फलता एवं राज्य की गिरती कानून व्यवस्था का परिणाम है। उन्होंने कहा कि मलसा गिरधरपुर कांग्रेस नेता तिलकराज बेहड़ का पैत्रिक गांव है तथा वहां कोई भी ऐसी घटना घटित होती है तो राजनैतिक एवं सामाजिक व्यक्तित्व होने के नाते उनका नैतिक दायित्व बन जाता है कि वहां जाकर दोनों पक्षों के बीच बातचीत कर मामले को समझाबुझा कर शांत करने का प्रयास करें और उन्होंने ऐसा ही किया। मामले में और हिंसा न हो इसी के मद्देनजर लोगों को समझाने-बुझाने की नीयत से तिलकराज बेहड स्वयं घटना स्थल पर गये थे। उन्होंने कहा कि तिलकराज बेहड के जाने से पूर्व गांव में स्थिति काफी तनावपूर्ण थी जिसे उन्होंने शांत करने का प्रयास किया। इसके बाद अगले दिन स्थिति की जानकारी लेने के लिए उन्होंने गांव जाने का प्रयास किया तो प्रशासन के अनुरोध पर वे वापस लौट आये थे परन्तु उसके बावजूद एक साजिश के तहत स्थानीय प्रशासन द्वारा उनके खिलाफ आपदा प्रबन्धन अधिनियम की संगीन धाराओं में झूठे मुकदमे दर्ज कर दिये गये।
प्रीतम सिंह ने कहा कि उधमसिंहनगर ही नहीं भाजपा नेताओं के इशारे पर पूरे प्रदेश में झूठे मुकदमे लाद कर कांगे्रस कार्यकर्ताओं का उत्पीडन किया जा रहा है जिसे कांग्रेस पार्टी कतई बर्दास्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि चाहे श्रीनगर नगरपालिका अध्यक्ष पूनम तिवारी का मामला हो, चाहे कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता अद्वैत बहुगुणा का और चाहे सितारगंज में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक नारायण पाल का मामला हो इन सारे प्रकरणों से स्पष्ट होता है कि भाजपा नेताओं के इशारे पर एक साजिश के तहत कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को लगातार प्रताडित करने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व काबीना मंत्री तिलकराज बेहड़ अपने पैत्रिक गांव में हुए गोली कांड से घायल हुए लोगों का हाल जानने तथा पीडितों से मुलाकात करने गये थे इसी के चलते उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया जिससे साफ हो गया है कि अपनी सरकार की कमजोरियों पर पर्दा डालने के लिए भाजपा नेताओं के इशारे पर साजिश हो रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कांग्रेस नेताओं के खिलाफ दर्ज झूठे मुकदमें बिना शर्त वापस लिये जाने की मांग की।
धरने में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के अलावा प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, आयेन्द्र शर्मा, महामंत्री नवीन जोशी, पूर्व मंत्री शूरवीर सिंह सजवाण, पूर्व मंत्री अजय सिंह, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, पूर्व विधायक राजकुमार, प्रदेश सचिव सीताराम नौटियाल, गिरीश पुनेड़ा, निवर्तमान प्रवक्ता गरिमा दसौनी, राजेश शर्मा, कमर खान ताबी, नवीन पयाल, विकास नेग, कुल्दीप, शोभाराम, मंजुला तोमर, शांति रावत, प्रणीता बडोनी, प्रमुख महेन्द्र राणा, डाटा विश्लेषण विभाग के अध्यक्ष दीवान सिंह तोमर, युवा कांग्रेस महासचिव संदीप चमोली, दीप बोरा, भरत शर्मा, महानगर महिला अध्यक्ष कमलेश रमन, मोहन काला, राजवीर राणा, राज्य आन्दोलनकारी मोहन सिंह खत्री, सूरत सिंह नेगी, अनुराधा तिवारी, सुलेमान अली, अनूप कपूर, भूपेन्द्र नेगी, मोहित नेगी, पार्षद इलियास, सोशल मीडिया के अमरजीत सिंह, अरूण शर्मा, अनिल बसनेत, सावित्री थापा, आदि शामिल थे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top