Home / Featured / रक्त नाली में नही नाड़ी में बहे, संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के रक्तदान शिविर में 58 यूनिट रक्तदान
रक्त नाली में नही नाड़ी में बहे, संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के रक्तदान शिविर में 58 यूनिट रक्तदान

रक्त नाली में नही नाड़ी में बहे, संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के रक्तदान शिविर में 58 यूनिट रक्तदान

देहरादून

 

सतगुरु माता सुदीक्षा महाराज के आदेश पर संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन ने स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन निरंकारी सत्संग भवन रेस्ट कैंप देहरादून में किया गया।

 

शिविर का उदघाटन स्थानीय ज्ञान प्रचारक ज्ञानेश्वर ने करते हुए कहा कि रक्तदान महादान मानवता के लिए की गई सेवा सदा सुखदाई होती है। परोपकार के लिए की गई सेवा सदा महान होती है। निरंकारी मिशन की ओर से रक्तदान शिविर पिछले 35 सालों से 1986 में बाबा हरदेव सिंह महाराज ने स्वयं रक्तदान करके किया था। यह सिलसिला लगातार चला आ रहा है रविवार को माता सुदीक्षा महाराज के मार्गदर्शन में हुआ ।

 

दून हॉस्पिटल की ओर से ब्लड बैंक देहरादून के द्वारा रक्तदान शिवि में सहयोग करके 58 यूनिट रक्त एकत्रित की गई।

 

इस अवसर पर संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर का निस्वार्थ सेवा भाव का प्रमाण है भक्त चाहते हैं, कि उनका रक्त मानवता की सेवा में लग सके बाबा हरदेव सिंह ने अपने विचारों में कहा था कि रक्त नालियों में नहीं नाडिय़ों में बहना चाहिए जो कि मानवता को स्वयं के लिए बहुत ही सुंदर उदाहरण है विश्व में निरंकारी मिशन रक्तदान करने वाली एक अग्रणी संस्था है।

रक्तदान शिविर को सफल बनाने में मसूरी जोन के जोनल इंचार्ज हरभजन सिंह के दिशा निर्देश में आयोजित किया गया, मनजीत सिंह एवं नरेश विरमानी ने सफल मार्गदर्शन किया। निरंकारी मिशन के SNCF के वॉलिंटियर ने रक्तदान शिविर को सफल बनाने में योगदान दिया।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top