उत्तराखण्ड में भी कोरोना वायरस से एहतियात बरतते हुए शिक्षण संस्थानों और स्कूलों में किया अवकाश घोषित

/center>

देहरादून
उत्तराखण्ड सरकार ने भी पूरी दुनिया की तरह आखिर कॉरोना वायरस COVID 19 से एहतियात बरतते हुए स्कूल और शिक्षण संस्थानों को एहतियातन कुछ दिन बन्द रखने की कवायद की है।
हालांकि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत खुद भी कह चूके हैं कि इस तरह की बीमारी में एहतियात ही बचाव है जबकि उत्तराखण्ड में अभी तक कोई ऐसा संक्रमित मरीज पाया नही गया है फिर भी प्रदेश की सीमाओं को सील करने में कोई कोताही नही बरती जाएगी।
इन सब बातो को देखते हुए
सरकार की ओर से भी विज्ञप्ति जारी की गई है। जिसमे कोरोना वाइरस के खतरे को देखते हुए राज्य के सभी स्कूल 31 मार्च तक बंद रखने की बात सामने आई है । आईसीएसई, सीबीसीई और उत्तराखंड की बोर्ड परीक्षाएं जरूर पूर्व की तरह जारी रहेगी। यह पत्र शिक्षा सचिव आर मिनाक्षी सुन्दरम के इस फैसले की पुष्टि करता नजर आ रहा है जिसके अनुसार इसके औपचारिक आदेश जारी किए जा रहे हैं। बोर्ड परीक्षाएं इस आदेश के दायरे से बाहर रहेंगी।
सचिव ने बताया कि जिन स्कूलोँ में गृह परीक्षाएं चल रही हैं, वे भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे। गृह परीक्षाओं को स्कूल 31 मार्च के बाद ही करा सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.