Home / Featured / ईद-उल-फितर पर कोरोना महामारी के चलते ईदगाह एवं मस्जिदों में होने वाली नमाज में 5-5 लोग ही नमाज अदा कर पाएंगे…डीजीपी अशोक कुमार
ईद-उल-फितर पर कोरोना महामारी के चलते ईदगाह एवं मस्जिदों में होने वाली नमाज में 5-5 लोग ही  नमाज अदा कर पाएंगे…डीजीपी अशोक कुमार

ईद-उल-फितर पर कोरोना महामारी के चलते ईदगाह एवं मस्जिदों में होने वाली नमाज में 5-5 लोग ही नमाज अदा कर पाएंगे…डीजीपी अशोक कुमार

देहरादुन

अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड ने पुलिस मुख्यालय स्थित सभागार में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से पुलिस महानिरीक्षक कुमांयू परिक्षेत्र, पुलिस उपमहानिरीक्षक, गढवाल परिक्षेत्र, समस्त जनपदों के प्रभारियो के साथ कोरोना से सम्बन्धित बैठक की ।
बैठक में पुलिस महानिदेशक द्वारा विभिन्न बिन्दुओं पर विचार विमर्श करते हुए निम्न महत्त्वपूर्ण निर्देश दिये गये….

1- आगामी ईद-उल-फितर के त्यौहार पर पुलिस द्वारा कोरोना महामारी के दृष्टिगत की जाने वाली कार्यवाही की समीक्षा की गई तथा निर्णय लिया गया कि ईद-उल-फितर के त्यौहार पर ईदगाह एवं मस्जिदों में होने वाली नमाज में पिछले वर्ष की भांति 5-5 व्यक्तियों द्वारा ही नमाज अदा की जाएगी। इस सम्बन्ध में जनपदों के उलेमाओं एवं मौलवियों के साथ समन्वय स्थापित कर आवश्यक कार्यवाही पूर्व से ही सुनिश्चित कर ली जाय।
शाही ईमाम, जामा मस्जिद, दिल्ली द्वारा ईदगाह एवं मस्जिदों में भीड ना किये जाने की गई अपील को भी सभी जगह सर्कुलेट कर दिया जाय।

2- पुलिस महानिदेशक द्वारा समस्त जनपदों के प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि राज्य में कोविड कफ्र्यू का सख्ती से पालन किया जाना सुनिश्चित करें, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी साथ ही अगर किसी व्यक्ति द्वारा कोविड कफ्र्यू का पालन नहीं किया जाता है तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

3- कोरोना महामारी के सम्बन्ध में पर्वतीय जनपदों के प्रभारियों की समीक्षा करते हुए उसके रोकने के उपायों के सम्बन्ध में चर्चा की गयी

4- उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा चलाए जा रहे मिशन हौसला को राज्य में सेवाभाव से चलाया जाय। पुलिस द्वारा जनता की मदद करने के साथ-साथ इनफोर्समेंन्ट लागू करने की जिम्मेदारी है, जिसे सतर्कता एंव जिम्मेदारी से निभाया जाए। इस सम्बन्ध में जनपदों के जिलाधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए जिन व्यक्तियों को किसी भी प्रकार की मदद की आवश्यकता हो उन्हें मदद उपलब्ध कराने का प्रयास करें।

बैठक में वी मुरूगेशन- पुलिस महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, ए0पी0अंशुमान- पुलिस महानिरीक्षक, अभिसूचना एवं सुरक्षा, नीलेश आनन्द भरणे- पुलिस उपमानिरीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था, के अतिरिक्त अन्य अधिकारियों द्वारा ऑनलाइन प्रतिभाग किया गया।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top