विकास और गुड गवर्नेन्स के लिए दायित्वबोध होना जरूरी…धामी

देहरादून

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विकास के बढ़ते कदम गोष्ठी में कहा कि विकास और गुड गवर्नेन्स के लिए दायित्वबोध का होना जरूरी है।

प्रदेश मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम प्रदेश में विकास के बढ़ते कदम विषय पर विकास की बात बूथ के साथ वर्चुअल संवाद में उन्होंने कहा कि गुड गवर्नेंस और शासन प्रशासन में दायित्व बोध की भावना को जागृत करने के लिए इस ओर विशेष कदम उठाये गए हैं। जिसमें पटवारी से लेकर मुख्य सचिव तक जिसका जो दायित्व है वे अपने दायित्वों को पूर्ण करें। सरकार नो पैंडेंसी पर कार्य कर रही है। हर कार्य के करने की समय सीमा निश्चित कर दी गयी है व उनकी जिम्मेदारी तय कर दी गयी है। जो भी कर्मचारी-अधिकारी अपने कार्य को करने में लापरवाही या ढील करेंगे उन पर उचित कार्यवाही की जायेगी।

पहाड़ पर रेल पहुंचाना हमारी विकास यात्रा को नये आयाम दे रहा है चार धामों को जोड़ने वाली चमचमाती व चैड़ी सड़कें प्रदेश के पर्यटन अवसरों को चार चांद लगा रहा है। उन्होंने कहा कि निश्चित ही चुनाव नजदीक आने के चलते चुनौतियां है लेकिन हम चुनौतियों का सामना करते हुए लक्ष्य प्राप्ति की ओर पूरी तन्मयता से कार्य कर रहे हैं। कुछ भी असंभव नहीं है और हम चुनौतियों पर विजय पायेंगे। हम उतनी घोषणाएं करेंगे जो हम पूर्ण कर सके जिन घोषणाओं का लोकार्पण भी करेंगे।

दलित, शोषित, वंचित समाज के अंतिम छोर पर खडे व्यक्ति की सरकार में सुनवाई होगी, उस तक सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास ध्येय वाक्य पर सरकार काम कर रही है, आगामी नवम्बर माह तक 63 लाख लोगों तक 5 किलो खाद्यान्न देने की सरकार द्वारा व्यवस्था की गयी है, करोना की वजह से पर्यटन उद्योग पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा पर्यटन से सम्बन्धित एक लाख चैसठ हजार व्यक्तियों को सरकार द्वारा 200 करोड़ का आर्थिक मदद के रूप में दिये गये हैं, कोरोना वारियर्स जिसमें डाक्टर्स नर्से एवं हास्पिट स्टाफ, आशा बहनें 3 लाख 73 हजार लोगों को सरकार द्वारा सम्मान राशि देकर करोना काल में उनके अद्म्य साहस व समर्पण के लिए सरकार द्वारा सम्मानित किया गया।

वात्सल्य योजना के अन्तर्गत अपने अपनों को खो चुके बच्चों की सरकार अभिभावक के रूप में 21 वर्ष की आयु तक उनके खाद्यान्न शिक्षा स्वास्थ्य व उनकी पैतृक सम्पत्ति की रक्षा की जिम्मेदारी भी सरकार द्वारा ली गयी है व सह अभिभावक के रूप में प्रत्येक जिले के जिलाधिकारी इस जिम्मेदारी का निर्वहन करेगी, ऐसे बच्चों को 5 प्रतिशत क्षेतिज आरक्षण की भी व्यवस्था की गयी है।

24 हजार पदों पर सरकारी नौकरी की प्रक्रिया चालू कर दी गयी है 15 अगस्त से विज्ञप्तियां प्रारम्भ करेगी और जल्द ही प्रक्रिया को पूर्ण कर दिया जायेगा। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत 15 अगस्त के पश्चात युवाओं को प्रत्येक जिलों में कैम्प लगाकर एक लाख युवाओं को स्वरोजगार के लिए ़ऋण वितरित किये जायेंगे जिनकी मौके पर ही स्कूटनी की जायेगी व पात्र व्यक्तियों को आन स्पाॅट ऋण स्वीकृत किया जायेगा।

प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि कोरोना काल में एक ओर जहां हमारे कार्यकर्ता कोरोना से संक्रमितों की सेवा सुश्रुषा में जुटा हुआ था। उनके हाॅस्पिटल,ऑक्सिजन, ब्लड, आदि की व्यवस्थाओं में अपनी जान की जोखिम की परवाह किये बगैर समाज सेवा में लगा था वहीं दूसरी ओर कांग्रेस टूलकिट में व्यस्त थी व विपक्षी पार्टियां या होम आईसोलेशन में थी या धरना प्रदर्शन में व्यस्त थी। जनता की दुश्वारियों से उन्हें कोई लेना देना नहीं था। लगभग 17 लाख प्रतिमाह वैक्सीनेशन उत्तराखण्ड में किया जा रहा है और आगामी दिसम्बर माह तक शत प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने में सफल होगी।

आगामी सम्भावित कोरोना की तीसरी लहर के दृष्टिगत प्रत्येक जिला अस्पताल में ओक्सीजन प्लाॅट आईसीयू बैडस बच्चों के आईसीयू की व्यवस्था सरकार द्वारा पूर्ण की जा चुकी है।

2016 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभा कर उत्तराखण्ड की जनता का आह्वान किया था कि आम भाजपा को डबल इंजन की सरकार का जनादेश दें। अटल जी ने उत्तराखण्ड बनाया हम इसे संवारने का कार्य करेंगे और किया भी। केदारनाथ पुननिर्माण से लेकर आलवेदर रोड, 4 एक्सप्रेस हाईवे, कर्णप्रयाग रेल लाईन, नये मेडिकल काॅलेज से उत्तराखण्ड का देश में मान बढ़ रहा है। विकास की नई गाथा युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी उनके विजन को साकार करने की दिशा में निरंतर जुटे हुए हैं। इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने और युवाओं को स्वरोजगार से जोड़कर आत्मनिर्भर उत्तराखण्ड बनाने की दिशा में सरकार बेहतरीन काम कर रही है।

आगामी मंगलवार 17 अगस्त 2021 को इसी कार्यक्रम की श्रृंखला की अगली कड़ी में कार्यक्रम संचालित किया जायेगा जिसका विषय स्वास्थ्य की दिशा में उत्तराखण्ड के बढ़ते कदम होगा, जिसमें स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत व महामंत्री संगठन अजेय कुमार कार्यक्रम के मुख्य वक्ता कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम संयोजक ज्योति प्रसाद गैरोला द्वारा किया गया।

इस अवसर पर प्रमुख रूप महामंत्री संगठन अजेय कुमार व प्रबुद्ध नागरिक जिनमें अशोक विंडलास, राकेश ओबराय, शशि गोयल, पंकज गुप्ता, विपिन नागलिया, जी.डी.एस. वार्णेय, मेजर जनरल सब्बरवाल सहित अन्य गणमान्य व पदाधिकारी उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम में समस्त 14 जिलों से 14 हजार कार्यकर्ता ने वर्चुअली सहभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.