6 दिन से उत्तरकाशी से लापता हुआ एनएच का इंजीनियर ऋषिकेश में मिला,फिलहाल कुछ बोलने की स्थिति में नहीं,घरवाले अस्पताल ले जाने के पक्ष में पुलिस थाने ले जाने को बोल रही

देहरादून

उत्तरकाशी से लापता हुए लोक निर्माण विभाग (एनएच) का इंजीनियर (जेई) अमित चौहान 6 दिन बाद ऋषिकेश बस अड्डे के पास मिल गया है।

इससे परिजनों के साथ ही ठेकेदार के परिवार और पुलिस ने राहत की सांस ली है। इधर, पुलिस का कहना है कि इंजीनियर पर डेपरमेंटल भुगतान की देनदारी से लेकर स्टोर से जुड़े दस्तावेजों का विभागीय दबाव के कारण इंजीनियर होटल से लापता हुआ होगा। हालांकि ऋषिकेश में मिलने के बाद इंजीनियर अवसाद में दिख रहा और कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है। पुलिस जेई अमित को उत्तरकाशी लाने की तैयारी कर रही है, जबकि परिजन अस्पताल में इलाज कराने पर विचार कर रहे हैं। फिलहाल पुलिस और परिजनों में इसे लेकर राय बननी बाकी है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय राजमार्ग खंड लोनिवि का इंजीनियर (एएई)अमित चौहान 12 मई को देहरादून के नानक विहार देहराखास स्थित घर से उत्तरकाशी निवासी ठेकेदार राजदीप परमार के साथ गया था। इस दौरान ठेकेदार राजदीप और इंजीनियर अमित चौहान डुंडा, उत्तरकाशी पहुंच गए थे। जहां ठेकेदार ने इंजीनियर को डुंडा स्थित अपने होटल में रखा। रात को इंजीनियर होटल में ही रहा। इसकी पुष्टि होटल में 12 मई को एंट्री से लेकर अगली सुबह इंजीनियर के मॉर्निंग वॉक पर जाने वाले सीसीटीवी फुटेज को देखकर भी हुई। लेकिन सुबह 7 बजे सड़क और पेट्रोल पंप के पास मॉर्निंग वॉक के बाद वह लापता हो गया था।

पिछले 6 दिन से इंजीनियर को पुलिस, परिजन और ठेकेदार के परिजन तलाश रहे थे। इस सम्बंध में परिजनों ने कोतवाली उत्तरकाशी में एक गुमशुदगी भी दर्ज कराई है। उत्तरकाशी के थानाध्यक्ष के अनुसार आरोपी की लोकेशन करीब 1 बजे ऋषिकेश में मिली। पुलिस ने करीब 1:30 बजे के आसपास टिहरी बस अड्डे के पास आरोपी के मिलने की बात कही। हालांकी परिजनों का दावा है कि इंजीनियर उन्हें रिषकेश में गंगा घाट में घूमता मिला है। इंजीनियर अमित की मानसिक स्थिति अभी ठीक नहीं है। वह कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं है। पुलिस के अनुसार इंजीनियर निर्माण खंड चिन्यालीसौड़ में कई सालों तक तैनात रहा है। करीब 1 साल पहले इंजीनियर अमित चौहान का राष्ट्रीय राजमार्ग खंड देहरादून में ट्रांसफर हुआ है।

परिजनों का कहना है कि फिलहाल इंजीनियर अमित चौहान अवसाद में है। अमित को इलाज के लिए अस्पताल ले जाने को पुलिस से अनुरोध किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.