राज्य निगम कर्मचारी महासंघ चुनाव में अध्यक्ष बने सूर्यप्रकाश राणाकोटि, संरक्षक सन्तोष रावत,रमेश चन्द नेगी कार्यकारी अध्यक्ष और महामंत्री बने ललित शर्मा

देहरादून

राज्य निगम कर्मचारी महासंघ उत्तराखण्ड की एक आवश्यक बैठक शिवाजी धर्मशाला
प्रदेश अध्यक्ष सन्तोष रावत की अध्यक्षता में आहूत की गई जिसमे द्वीवार्षिक चुनाव सम्पन्न हुए।

कार्यक्रम का संचालन इम्पालईज यूनियन के कार्यकारी अध्यक्ष जगत बहुगुणा ने किया। बैठक में जल संस्थान कर्मचारी संगठन, वन विकास निगम कर्मचारी संगठन, गढ़वाल मण्डल विकास निगम कर्मचारी संगठन, उत्तराखण्ड रोडवेज इम्पलाइज यूनियन, बहुद्देशीय वित्त विकास निगम कर्मचारी संगठन, अल्प संख्यक कर्मचारी संगठन, उत्तराखण्ड विकास प्राधिकरण कर्मचारी संगठन, जिला पंचायतें कर्मचारी महासंघ, निकाय कर्मचारी महासंघ के पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया।

बैठक को सम्बोधित करते हुए महासंघ के अध्यक्ष सन्तोष रावत ने कहा कि राज्य कर्मियों की भाति सार्वजनिक निगमों / उपक्रमों में कार्यरत कार्मिकों को शासन द्वारा समय-समय पर जारी सभी शासनादेश का समान रूप से लाभ प्रदान किया जाए। बैठक को सम्बोधित करते हुए महासंघ के कार्यकारी अध्यक्ष गजेन्द्र कपिल ने सार्वजनिक निगमों/उपक्रमों में तैनात कार्मिकों की वेतन विसंगतियां दूर की जाए तथा जल संस्थान के ढांचे में मृत
को पुर्नजीवित किया जाए एवं पीछटी०सी० कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाया जाए। बैठक को सम्बोधित करते हुए महासंघ के महासचिव सूर्यप्रकाश राणाकोटी ने बताया कि सार्वजनिक निगमो/उपक्रमों एवं स्वायत्तशासी संस्थाओं में कार्यरत 80 हजार कर्मचारियों के साथ सरकार और शासन द्वारा सौतेला व्यवहार किया जा रहा है जिससे कार्मिकों में निरा एवं कुंठा की भावना का संचार हो रहा है सरकार और शासन को कर्मचारियों की समस्याओं का समय रहते निदान किया जाना आवयक है यदि कर्मचारियों की समस्याओं का समय रहते निदान नहीं किया जाता है तो निगम महासंघ कोई भी आन्दोलन करने के लिए बाध्य होगा उत्तराखण्ड विकास प्राधिकरण के कर्मचारियों को उत्तर प्रदेश विकास प्राधिकरण की तरह पेशन सुविधा अनुमन्य की जाए।

निगम कर्मचारी महासंघ के उपाध्यक्ष अजयकान्त शर्मा ने कहा कि गढ़वाल मण्डल विकास
निगम के कर्मचारियों की आर्थिक स्थिति के उत्थान के लिए सरकार और शासन गम्भीर नहीं है।
कर्मचारियों की समस्याओं का समय रहते निदान किया जाना अतिश्यक है

निगम कर्मचारी महासंघ के उपाध्यक्ष ललित शर्मा ने कहा कि उत्तराखण्ड वन विकास निगम में ए०सी०पी० के नाम पर की जा रही कटौती को बन्द किया जाए।
निगम कर्मचारी महासंघ के उपाध्यक्ष रमेश चन्द नेगी ने कहा जिला पंचायत के कार्मिक हमेश राज्य निगम कर्मचारी महासंघ के साथ जुड़े रहे हैं और आयता पढ़ने पर पूर्ण सहयोग प्रदान किया जायेगा।

निगम कर्मचारी महाराध के संगठन मंत्री रविन्द्र सिंह भगत ने कहा कि उत्तराखण्ड परिवहन निगम की कार्यशालाओं में बाहरी स्रोत के माध्यम से कार्यरत कर्मचारियों का पदनाम (दैनिक वेतनभोगी वर्कचार्ज तपर्य) परिवर्तित किया जाए।

राज्य निगम कर्मचारी महासंघ के द्विवार्षिक चुनाव के चुनाव अधिकारी दीपक जोशी अध्यक्ष सचिवालय संघ द्वारा सम्पन्न कराये गये जिसमें सर्वसम्मति से संरक्षक सन्तोष रावत, संयोजक गजेन्द्र कपिल, प्रवीन रावत, सूर्यप्रकाश राणाकोटी को अध्यक्ष एवं रमेश चन्द नेगी को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया महामंत्री ललित शर्मा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अजयकान्त शर्मा, उपाध्यक्ष जगदीश बहुगुणा, गुरमीत सिंह, उपमहामंत्री रविनन्दन कुमार, गिरीश नैथानी, संयुक्त मंत्री टी०डी० बलूनी, दाताराम रमोला, संगठन मंत्री बालेश कुमार, सुदेश कुमार, चन्द्रमोहन, टी०एस० पंवार, प्रेमसिंह चौहान, प्रधार मंत्री सूरत सिंह बंगारी, ज्ञानेन्द्र कुमार, राजेन्द्र सिंह राणा, कोषाध्यक्ष दलीप रावत एवं कार्यकारिणी सदस्य सर्वश्री राजेश रमोला, विपिन उनियाल, विपिन बडोनी, सुरेन्द्र रतूडी, हरभजन सिंह को शामिल किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.