Home / इंडिया / राजधानी में 1517 जरूरतमन्दो को खाने के पैकेट,MDDA सचिव गिरीश गुणवन्त को नोडल अधिकारी बनाया
राजधानी में 1517 जरूरतमन्दो को खाने के पैकेट,MDDA सचिव गिरीश गुणवन्त को नोडल अधिकारी बनाया

राजधानी में 1517 जरूरतमन्दो को खाने के पैकेट,MDDA सचिव गिरीश गुणवन्त को नोडल अधिकारी बनाया

देहरादून
कोरोना वायरस कोविड-19 की रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिलाधिकारी शिविर कार्यालय में खाद्यान सामग्री की उपलब्धता, ओवर रेटिंग की रोकथाम तथा होम डिलिवरी सुनिश्चित करवाने के सम्बन्ध में आढतियों, मण्डी सचिव, जिला पूर्ति अधिकारी के साथ ही सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित करते हुए जरूरी दिशा-निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने बैठक में थोक विक्रेताओं को निर्देश दिये कि फुटकर विके्रताओं के माध्यम से 500 व 1000 रू0 के फूटकर पैकेट भी अतिरिक्त रूप से तैयार करवाकर होम डिलिवरी करवायें। उन्होनें कहा कि आटा, चावल, दाल, और रिफाइण्ड थोक में विक्रय करंे एवं अन्य वस्तुओं जैसे नमक, चीनी, चायपत्ती आदि सामग्रियों को फूटकर में बिक्री जा सकती हैं। उन्होंने मण्डी परिषद और सम्बन्धित आढतियों को निर्देशित किया कि सब्जी मण्डी से 100 रू0 व 200 रू0 के पैकेट भी अतिरिक्त रूप से होम डिलिवरी हेतु बनवाये जाए, जिसमें आलू और प्याज भी रहेगा।
जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव के निर्देशों के अनुपालन में जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में खाद्य रसद पंहुचाने हेतु उपयोग किये जाने वाले वाहनों का अधिग्रहण किया गया एवं वाहनों को सैनिटाइज किया गया तथा वाहन चालकों को मास्क, गलब्स एवं सैनिटाइजर वितरित किये गये। जनपद के विभिन्न क्षेत्रान्तर्गत निवास कर रहे 250 गरीब परिवारों को जिला प्रशासन की टीम द्वारा खाद्य सामग्री आपूर्ति की गयी, जिनमें मसूरी में 100, तहसील सदर क्षेत्र में 50 एवं तहसील ऋषिकेश क्षेत्र में 100 परिवारों को खाद्य सामग्री युक्त अन्नपूर्णा पैकेट वितरित किये गये। आढत बाजार में ओवर रेटिंग की शिकायत आने पर जिलाधिकारी द्वारा सभी व्यापारियों को अपने अधिष्ठान में अनिवार्यतः खाद्य सामग्री की रेट लिस्ट चस्पा करने के निर्देश दिये, रेट लिस्ट चस्पा न होने की दशा में आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि आज जनपद में पके भोजन के 1517 पैकेट विभिन्न स्थानों पर ऐसे वरिष्ठ नागरिक एवं विद्यार्थी जिनके पास खाना बनाने की सुविधा नही हैं तथा असहाय गरीब व्यक्तियों को वितरित किये गये, जिनमें सहस्त्रधारा रोड स्थित बागड़िया बस्ती में 50, मोथोरोवाला में 10, लाल पुल स्थित बस्ती में 20, चूना भट्टा में 20, इन्दिरानगर चुक्खुवाला व बिंदाल बस्ती में 300, प्रकाश नगर व गोविंदगढ में 400, भण्डारी बाग स्थित सड़क किनारे निवासरत गरीब परिवारों को 30, देहराखास में 20, चन्द्रबनी में 30, गुजराड़ा में 25, नई बस्ती मोथोरोवाला में 30, सुभाषनगर में 30, मच्छीबाजार में 60, लक्खीबाग स्थित बस्ती में 70, मोतीबाजार में 20, सीमाद्वार 42 में , मौहब्बेवाला 75, पटेलनगर में 211, ग्राफिक एरा क्षेत्र में 74 व्यक्तियों को उपलब्ध कराया गया। कुछ वरिष्ठ नागरिकों ने अपने निवास पर खाद्य सामग्री की होम डिलिवरी हेतु अनुरोध किया है तथा अपने डायलिसिस के उपचार हेतु हास्पिटल जाने के लिए पास हेतु अनुरोध किया है, जिसे तत्काल पूर्ण करने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया है।
कोरोना वायरस, कोविड-19 के संक्रमण से बचाव एवं लाॅक डाउन के मध्यनजर प्रभावित क्षेत्रों में खाद्यान एवं खाद्य सामग्री वितरण हेतु जिलाधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की तैनाती की गयी है। सम्बन्धित अधिकारी जिला पूर्ति अधिकारी देहरादून एवं वरिष्ठ नागरिकों एवं छात्रों हेतु भोजन की व्यवस्था हेतु गठित समिति से समन्वय स्थापित करते हुए जनपद के प्रभावित क्षेत्रों में खाद्य सामग्री एवं भोजन वितरण में अपना योगदान देंगे। विभिन्न औद्योगिक अस्थानों में कार्यरत कामिकों हेतु पास निर्गत करने के लिए शिखर सक्सेना, महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र देहरादून को नोडल अधिकारी नामित किया गया है।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद अवस्थित रेस्टोरेंट के किचन खुले रहेंगे तथा उपभोक्ताओं के आर्डर पर स्वयं भुगतान के आधार उनके निवास स्थान पर खाने की आपूर्ति कर सकेंगे। इस दौरान रेस्टोरेंट पर खाना खिलाना एवं रेस्टोरेंट खुला रखना प्रतिबन्धित रहेगा। इसी प्रकार आवश्यक सेवाओं तथा गम्भीर रूप से बीमार व्यक्तियों को लाने-ले-जाने रोका न जायेगा। जिलाधिकारी ने स्पष्ट किया कि लाॅक डाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं में लगे स्वास्थ्य विभाग, आपूर्ति, बैंक, डाक विभाग, दूर संचार विभाग, आवश्यक सेवाओं तथा वास्तविक रूप से बीमार व्यक्तियों के परिहवन से जुडे़ चार पहिया वाहनों को न रोका जाय।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु वन अनुसंधान परिसर में अपेक्षित एवं आवश्यक कार्यवाही के लिए निमित्त नोडल अधिकारी/सचिव एमडीडीए देहरादून गिरिश चन्द्र गुणवंत को उक्त कार्य के साथ-साथ लाॅक डाउन अवधि में जनपद क्षेत्रान्तर्गत उपलब्ध/वितरित किये जाने वाले खाद्यान व गैस वितरण का भी नोडल अधिकारी नामित किया गया है। इसी क्रम में जनपद में मास्क, सेनेटाइजर इत्यादि आवश्यक उपकरणों की उपलब्धता व कालाबाजारी को रोकने सम्बन्धित कार्यवाही के लिए सचिव सचिव एमडीडीए देहरादून सुन्दरलाल सेमवाल को नोडल अधिकारी नामित किया गया है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top