नवजात बालिका को 6 दिन तक मेडिकल ऑब्जरवेशन में रखने के बाद सुपुर्द।

/center>

नवजात शिशु (बालिका) को 6 दिन तक मेडिकल ऑब्जरवेशन में रखने के बाद सकुशल सीडब्ल्यूसी के सुपुर्द किया गया।

टोंस कॉलोनी डाकपत्थर पीएनबी बैंक के पास किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा एक नवजात शिशु ( बालिका) को सड़क किनारे रखा हुआ है नवजात शिशु की रोने की आवाज सुनकर प्रातः घूमने वालो ने उक्त बालिका को देखा व सूचना दी। सूचना पर थाना विकासनगर पुलिस की सक्रियता व सतर्कता के चलते एवं जनता के सहयोग से तुरंत मौके पर पहुंचकर नवजात शिशु को स्थानीय महिला श्रीमती रेखा नौटियाल पत्नी नरेश नौटियाल निवासी गोल मार्केट डाकपत्थर विकासनगर जनपद देहरादून स्थाई निवासी ग्राम नाकोट पोस्ट ऑफिस मियानी जिला टिहरी गढ़वाल की मदद से नवजात शिशु (बालिका) को प्राथमिक उपचार हेतु सीएचसी विकास नगर ले जाया गया थाना विकासनगर पर नियुक्ति पुलिस बाल कल्याण अधिकारी हिमानी चौधरी को अवगत करा कर अस्पताल बुलवाया गया पुलिस बाल कल्याण अधिकारी द्वारा नवजात शिशु के संबंध में चाइल्ड हेल्पलाइन को सूचना दी गई थी सूचना पर चाइल्ड हेल्पलाइन के कर्मचारी नीलम एवं रश्मि द्वारा सीएचसी विकासनगर पहुंच कर नवजात शिशु के संबंध में जानकारी की गई चिकित्सकों द्वारा नवजात शिशु बालिका को चिकित्सीय परीक्षण/ऑब्जरवेशन हेतु सीएचसी विकासनगर में ही रखा गया चिकित्सकों द्वारा नवजात शिशु का आज पूर्ण रूप से स्वस्थ होना बताया गया अस्पताल में नवजात शिशु की सुरक्षा हेतु लगातार पुलिस ड्यूटी नियुक्त की गई नवजात शिशु बालिका को बाल कल्याण अधिकारी हिमानी चौधरी द्वारा नवजात शिशु को अस्पताल से डिस्चार्ज करा कर चाइल्ड हेल्पलाइन देहरादून की टीम के सदस्य जसवीर रावत पुत्र बलवंत सिंह रावत एवं गीता पुत्री पृथ्वी सिंह बिष्ट की सुपुर्दगी में सकुशल दिया गया चाइल्ड हेल्पलाइन कर्मचारी नवजात शिशु को बाल कल्याण समिति ले जा रहे हैं सुरक्षा की दृष्टि से टीम के साथ में महिला कांस्टेबल कमलेश को भी भेजा गया है।
नवजात शिशु के माता-पिता की जानकारी करने हेतु प्रभारी निरीक्षक कोतवाली विकासनगर द्वारा थाना पर नियुक्त पुलिस बाल कल्याण अधिकारी हिमानी चौधरी एवं चौकी प्रभारी डाकपत्थर कुंदन सिंह के नेतृत्व में टीम गठित की गई है गठित पुलिस टीम को ब्रीफ कर नवजात शिशु के माता-पिता की तलाश करने हेतु निर्देशित किया गया है नवजात शिशु बालिका के माता पिता के संबंध में जानकारी किये जाने के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.