Home / Featured / राज्यपाल बेबीरानी ने चमोली के आपदाग्रस्त तपोवन क्षेत्र का भ्रमण कर राहत एवं बचाव कार्यों का निरीक्षण किया
राज्यपाल बेबीरानी ने चमोली के आपदाग्रस्त तपोवन क्षेत्र का भ्रमण कर राहत एवं बचाव कार्यों का निरीक्षण किया

राज्यपाल बेबीरानी ने चमोली के आपदाग्रस्त तपोवन क्षेत्र का भ्रमण कर राहत एवं बचाव कार्यों का निरीक्षण किया

देहरादून

 

राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने गुरूवार को जनपद चमोली के आपदाग्रस्त तपोवन क्षेत्र का भ्रमण कर राहत एवं बचाव कार्यों का निरीक्षण किया।

 

राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे अधिकारियों एवं कार्मिकों से बात करके राहत एवं बचाव कार्यों की अद्यतन जानकारी ली। राज्यपाल ने उपस्थित अधिकारियों एवं कार्मिकों को निर्देश दिये कि रेस्क्यू ऑपरेशन तीव्रता से निरन्तर चलते रहना चाहिये। प्रभावितों को शीघ्र से शीघ्र आवश्यक सहायता पहुंचायी जा रही है। रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे कार्मिकों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाना चाहिये। राज्यपाल आपदा में लापता लोगों के परिजनों से मिली तथा उनको सांत्वना देते हुये हर संभव सहायता पहुंचाने का आश्वासन दिया। उनके द्वारा प्रभावित गाँवों में रेडक्रास के माध्यम से भी सहायता देने के निर्देश दिये गये हैं।

 

मीडिया से अनौपचारिक बातचीत के दौरान राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने कहा कि हमें राहत एवं बचाव कार्य में लगे कार्मिकों की भी चिंता करनी होगी। उन्होंने कहा कि पुलिस, प्रशासन, सेना, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ एवं आईटीबीपी के सभी अधिकारी एवं कार्मिक गंभीरता एवं प्रतिबद्धता से कार्य कर रहे हैं। आशा है कि जल्द से जल्द प्रभावित टनल खुले तथा लोगों को मदद पहुंचायी जा सके। राज्यपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री से भी आपदा राहत एवं बचाव कार्यों के सम्बन्ध में गहन चर्चा हो चुकी है। उल्लेखनीय है कि राज्यपाल श्रीमती मौर्य चमोली की प्राकृतिक आपदा के बाद से ही निरन्तर राहत एवं बचाव कार्यों की अद्यतन जानकारी ले रही हैं तथा निरन्तर अधिकारियों के सम्पर्क में है।

 

इस अवसर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, विधायक महेंद्र प्रसाद भट्ट, गढ़वाल कमिशर रविनाथ रमन, जिलाधिकारी चमोली श्रीमती स्वाति भदौरिया, डीआईजी श्रीमती नीरू गर्ग, पुलिस अधीक्षक जसवंत सिंह चौहान व जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top