लच्छीवाला वन क्षेत्र नेचर कम सिटी पार्क के रूप विकसित किया जायेगा….सीएम त्रिवेंद्र

/center>

मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड त्रिवेन्द्र सिंह रावत की तहसील डोईवाला क्षेत्रान्तर्गत लच्छीवाला नेचर वाटर पार्क डेवलपमेंट के निर्देशों के क्रम में आज जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने प्रभागीय वनाधिकारी राजीव धीमान के साथ पार्क का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि इसके लिए प्रापर डीपीआर तैयार की जायेगी, जिसमें डीएफओ द्वारा कार्य विवरण तैयार कर लिया गया है जिसे शासन को प्रेषित किया जायेगा। निरीक्षण के दौरान डोईवाला के लच्छीवाला नेचर वाटर पार्क में आधुनिक सुविधाओं को जुटाने के साथ ही मनोरंजन के साधन उपलब्ध कराने के लिए जिला प्रशासन और वन विभाग लगातार प्रयास कर रहा है। उन्होंने पार्क के सौन्दर्यीकरण और आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित करने की तैयारियों का भी जायजा लिया। उन्होंने बताया कि लच्छीवाला वन क्षेत्र नेचर कम सिटी पार्क के रूप विकसित किया जायेगा। उन्होंने वन विभाग द्वारा पार्क में अवस्थित तुलसी वाटिका, तितली पार्क को नमामि गंगे के तहत् निर्मित गंगा वाटिका का भी अवलोकन किया। उन्होंने बताया कि बच्चों के आकर्षित ट्रेकिंग ट्रेल्स बनाई जाय, साथ ही साईकिलिंग की व्यवस्था की जाय, जिनसे पर्यटक गतिविधियों को बढ़ाया जा सके। उन्होंने कहा कि ग्रीष्मकाल में वाटर पार्क का आनंद लेने वाले लोगों के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराई जायं। लच्छीवाला पार्क के निरीक्षण के दौरान दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री करन बोहरा, उप जिलाधिकारी डोईवाला लक्ष्मी राज चोहान, तहसीलदार रेखा आर्य, रेंजर घनानंद उनियाल समेत पार्क के अन्य कार्मिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.