Breaking News
Home / Featured / त्रिवेंद्र केबिनेट ने 28 प्रस्तावों पर लगाई मोहर
त्रिवेंद्र केबिनेट ने 28 प्रस्तावों पर लगाई मोहर

त्रिवेंद्र केबिनेट ने 28 प्रस्तावों पर लगाई मोहर

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत कैबिनेट ने शुक्रवार को रोजगार, शिक्षा, ऊर्जा, पर्यटन, श्रम और कृषि आदि महत्वाकांक्षी योजनाओं पर मोहर लगाई। इस बैठक में केबिनेट ने 28 प्रस्ताव पास किये। जबकि एक पर समिति बनाई गई और एक प्रस्ताव को वापस किया गया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत लगातार राज्य हित में बड़े फैसले ले रहे हैं। कोरोना काल से हुए नुकसान में सरकार के फैसले रोजगार और आर्थिक सुधार में मील के पत्थर साबित होंगे।

कैबिनेट की बैठक राज्य सचिवालय,देहरादून में हुई। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, उद्यान मंत्री सुबोध उनियाल, शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक, वन मंत्री हरक सिंह रावत, शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डे, डॉ धन सिंह रावत समेत अन्य शामिल हुए। शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि कैबिनेट में 30 प्रस्ताव आये थे। जिनमे 28 प्रस्तावों कैबिनेट ने पास किया गया ।
उत्तराखण्ड मंत्रिमंडल केबिनेट ने इन 28 फैसलों पर मोहर लगाई जिनमें
,👍 अब राज्य सरकार के विभागों में खाली पदों पर उपनल के माध्यम से सभी को नौकरी का अवसर मिलेगा। हालांकि पहली प्राथमिकता पूर्व सैनिकों के परिजनों को मिलेगी। ये नियुक्तियां वर्ग तीन और चार के पदो पर होंगी।
👍बैठक में पंचायत प्रतिनिधियों से लोक सेवक का टैक हटाकर उन्हें दूसरे गांव में विकास के कार्यों की अनुमति दी गई है। इससे अब पंचायत प्रतिनिधियों को भी काम का अवसर मिलेगा। राज्य में कोविड के कारण हुए पर्यटन को काफी नुकसान हुआ है। पर्यटन को पटरी पर वापस लौटाने के लिए पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए ई-बुकिंग पर उन्हें तीन दिन होटलों में ठहरने पर एक हजार रूपए का कूपन देने का निर्णय लिया गया।
👍राज्य में मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना को लागू करने पर भी कैबिनेट ने मुहर लगा दी। इस योजना के तहत राज्य के 10 हजार लोगों को 25-25 किलोवाट की सौर ऊर्जा योजनाएँ आवंटित की जाएंगी।
👍चीन-नेपाल सीमा से सटे सीमावर्ती इलाकों में दूरसंचार नेटवर्क को मजबूत करने का भी फैसला लिया गया। इसके लिए कंपनियों को एक मुश्त 40 लाख का लाभ दिया जाएगा। इससे सीमांत क्षेत्र के 250 से ज्यादा गांवों के लोगों को अपने मोबाइल नेटवर्क से बात करने की सुविधा मिलेगी। सामरिक दृष्टि से भी सरकार का यह कदम काफी महत्वपूर्ण है।
👍हरिद्वार में महाकुंभ 2021के आयोजन के लिहाज से जूना अखाड़ा और माया देवी मंदिर की ऊंचाई बढाने का भी निर्णय लिया गया। जूना अखाड़ा के भैरों मंदिर की ऊंचाई 197 फीट और माया देवी मंदिर 270 फीट ऊंचा बनाया जा सकेगा।
👍केदारनाथ में सामरिक दृष्टि से बड़ा हैलीपैड बनाया जाएगा। जिससे सेना के युद्धक हेलीकाप्टर चिनूक भी यहां उतर सकेंगे।
👍पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटक प्रोत्साहन कूपन योजना को शुरू किया गया। ई- बुकिंग करने वाले पर्यटकों को मिलेगी 1000 की छूट। पर्यटक स्थलों पर 3 दिन रहने पर मिलेगी छूट।
👍उत्तराखंड राज्य विश्वविद्यालय विधेयक 2020 को विधेयक लाने पर मंजूरी।
👍विधायकों के वेतन कटौती को लेकर विधानसभा में विधेयक
लाएगी सरकार।
👍राजकीय महाविद्यालयो में संविदा के 257 गेस्ट टीचरों की एक साल अवधि बढ़ी।
👍मेडिकल कालेज में मेडिकल सोशल वर्कर्स सेवा नियमावली को मंजूरी।
👍उत्तराखंड नागरिक सुरक्षा क और ख नियमावली में संशोधन,
👍कृषि विभाग का शासन स्तर में अनुभाग एक हुआ,पहले चार अनुभाग थे।
👍सतर्कता विभाग को RTI नियम से बाहर किया गया है ।
👍 कॉर्बेट पार्क में एडवांस बुकिंग के पैसे वापस किए ,
1 करोड़ 85 लाख रूपये वापस की मंजूरी।
👍केदारनाथ धाम में स्थित हेलीपैड के विस्तारीकरण को मंजूरी ,केदारनाथ धाम में चिनूख हैलीकॉप्टर उतर सकेगा
👍यमनोत्री रोपवे को मैसर्स कम्पनी के साथ विवाद को सरकार ने किया खत्म। खरसाली यमनोत्री रोपवे को सरकार अब बनाएगी पीपीपी मोड पर।
👍देहरादून के मेहर गांव में शहीद के नाम पर बनने पेट्रोल पंप में नियमों में दी गयी छूट।
👍उत्तर प्रदेश श्रम नियमावली को उत्तराखंड कैबिनेट ने सुधार को दी मंजूरी।
👍एक्सरे प्राविधिक सेवा नियमावली को मंजूरी।
👍सैनिक कल्याण, उच्च शिक्षा, आवास ,नियमावली, आबकारी, शहरी विकास के प्रस्ताव आये।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top