56 % सड़क दुर्घटनाओं में मृतको की आयु 18 से 45 वर्ष के युवा..एसपी ट्रैफिक प्रकाश चन्द्र

/center>

देहरादून : उत्तरांचल विश्वविद्यालय नन्दा की चौकी प्रेमनगर देहरादून में दून यातायात पुलिस द्वारा सड़क सुरक्षा एवं जागरूकता कार्यक्रम के तहत प्रकाश चन्द्र, पुलिस अधीक्षक यातायात देहरादून के नेतृत्व में राजपाल सिंह रावत, निरीक्षक यातायात, प्रदीप कुमार, निरीक्षक सीपीयू देहरादून द्वारा प्रतिभाग किया गया जागरूकता कार्यक्रम में सर्वप्रथम डायेक्टर प्रदीप पुरी द्वारा कार्यक्रम का मुख्य उदेश्य का संक्षिप्त परिचय देते हुए सड़क सुरक्षा के प्रति जिम्मेदारियों के साथ सड़क पर गाड़ियों को चलाये जाने की अपेक्षा की गई इसके उपरान्त यातायात पुलिस से राजपाल सिंह रावत, द्वारा रोड़ साइनेज तथा श्री प्रदीप कुमार द्वारा रात्रि के समय रोड़ पर चलते समय की सावधानियां व डी0एल0 बनाये जाने की प्रक्रिया व नियमों की जानकारी प्रदान की गई ।

अन्त मे श्री प्रकाश चन्द्र, पुलिस अधीक्षक यातायात ने कहा कि यातायात नियमों का पालन न करने से सड़क दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं । प्राप्त आंकड़ों के अनुसार सड़क दुर्घटना में प्रतिवर्ष लगभग 10 लाख से अधिक व्यक्तियों की मृत्यु होती है, जिसमें कि अधिकांश युवा होते हैं । भारत में प्रतिवर्ष 5 लाख सड़क दुर्घटनाएं होती है जिसमें तीन लाख घायल एवं लगभग डेढ़ लाख लोगों की असायमिक मृत्यु हो जाती है । लगभग 80 % सड़क दुर्घटनाएं चार जनपदों (देहरादून, हरिद्वार, उधमसिंह नगर, नैनीताल) में होती है ।

56 % सड़क दुर्घटनाओं में मृत व्यक्तियों की आयु 18 से 45 वर्ष होती है ,36 % मृत्यु दुपहिया वाहन चालकों की होती है ,68 % दुर्घटनाएं चालक की लापरवाही अथवा वाहन को तेज गति से चलाने से होती है । इसके अतिरिक्त नए एम वी एक्ट , Good Samaritan, सोलेशियम स्कीम एवं Motor Accident Claims Tribunal जैसे महत्वपूर्ण स्कीम के सम्बन्ध में उनके द्वारा जानकारी उपलब्ध कराई गई । कार्यक्रम के दौरान उत्तरांचल कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट के लगभग 500 छात्र-छात्राओं के साथ ही अध्यापक व अन्य पुलिस कर्मचारी मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.