पहाड़ों में बाहरी गैर हिंदुओं को लेकर तनाव जारी,पुरोला की घटना के बाद गुस्से की आग उत्तरकाशी,बडकोट,चिन्यालीसौड़ और डूंडा तक पहुंची – Latest News Today, Breaking News, Uttarakhand News in Hindi

पहाड़ों में बाहरी गैर हिंदुओं को लेकर तनाव जारी,पुरोला की घटना के बाद गुस्से की आग उत्तरकाशी,बडकोट,चिन्यालीसौड़ और डूंडा तक पहुंची

उत्तरकाशी

पुरोला में लव जिहाद का मामला सामने आने के बाद इसको लेकर पहाड़ के लोगों का आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है।

घटना के विरोध में पूरा जनपद गुस्से से सुलग रहा है।

पुरोला से शुरू हुई ये आग अब उत्तरकाशी, बड़कोट, मोरी और नौगांव से चिन्यालीसौड़ और डुण्डा तक पहुंच चुकी है।

इस घटना के विरोध में आज व्यापारियों ने चिन्यालीसौड़ और डुण्डा का बाजार बंद रखा तथा शासन प्रशासन से कठोर कार्रवाई की मांग करते हुए जुलूस प्रदर्शन किया जिसमें सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद थे।

बताते चलें कि 10 दिन पूर्व पुरोला में दो मुस्लिम युवकों द्वारा एक स्कूली छात्रा को बहला फुसलाकर भगाने का प्रयास किया गया था जिन्हें क्षेत्र के लोगों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया गया था। क्षेत्रवासियों का कहना है कि क्षेत्र में भारी संख्या में गैर हिंदू समुदाय के लोग अवैध तरीके से रह रहे हैं जिनके द्वारा पहाड़ की भोली भाली लड़कियों व महिलाओं को निशाना बनाने का काम किया जा रहा है।

लोगों की मांग है कि जनपद पुलिस और प्रशासन बाहर से आए इन लोगों का सत्यापन करें और अवैध रूप से रह रहे इन लोगों को बाहर किया जाए।

इस घटना को लेकर लंबे समय से पुरोला में धरने प्रदर्शन किए गए जिसके बाद अब यह लव जिहाद की आग पूरे जनपद को अपनी चपेट में ले चुकी है।

बीते 2 जून को ही उत्तरकाशी मुख्यालय में बाजार बंद रख यहां धरना प्रदर्शन किए गए थे। जबकि इससे एक दिन पूर्व ही बड़कोट और नौगांव के व्यापारियों ने विरोध प्रदर्शन किया था लेकिन इस विरोध प्रदर्शन की आग थमती नहीं दिख रही।

मंगलवार को चिन्यालीसौड़ व डुण्डा के व्यापारियों ने इस घटना के विरोध में बाजार बंद रखा और बाजार में जुलूस निकालकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी की गई। क्षेत्रवासियों का कहना है कि यह हमारी मां बहनों की इज्जत का सवाल है। जब तक इन बाहरी लोगों को क्षेत्र से बाहर नहीं कर दिया जाता उनका आंदोलन जारी रहेगा।

यहां यह उल्लेखनीय है कि 2 दिन पहले ही कुछ लोगों ने पूरे क्षेत्र में मुस्लिम दुकानदारों की दुकानों पर 15 जून तक दुकाने खाली करने का नोटिस चस्पा किए थे। जिनको पुलिस द्वारा हटाया गया था और अज्ञात के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया था। उससे पूर्व पुरोला से 40-45 दुकानदारों के पलायन कर रातोंरात भाग जाने की खबरें भी आई थी। हालांकि इस घटना के बाद क्षेत्र में भारी तनाव नजर आ रहा0 है जिसके मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.